UP चुनाव: 52.80 लाख नए वोटरों पर अखिलेश की नजर, बूथ मैनेजमेंट पर पार्टी का जोर

Somya Sri, Last updated: Sat, 8th Jan 2022, 7:29 AM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल रणनीति तैयार करने में जुटी है. कहा जा रहा है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव 52.80 लाख नए वोटरों को लुभाने की कोशिश में जुटे हुए हैं. इन वोटरों में युवाओं की संख्या अधिक है. इसलिए पूर्व सीएम बूथ मैनेजमेंट पर ज्यादा जोर दे रहे हैं.
समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश चुनाव में ज्यादा वक्त नहीं बचा है. जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं सभी राजनीतिक दल चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं. इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी ने चुनाव को लेकर अपनी रणनीति तैयार कर ली है. जानकारी के मुताबिक सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 52.80 लाख नए वोटरों को लुभाने की कोशिश में जुटे हुए हैं. इन वोटरों में युवाओं की संख्या अधिक है. इसलिए पूर्व सीएम बूथ मैनेजमेंट पर जोर दे रहे हैं. बूथ जीतने के लिए प्रत्येक बूथ पर पार्टी बूथ रक्षक तैनात करेगी.

युवा वोटरों को लुभाने में जुटी सपा

बता दें कि समाजवादी पार्टी इन नए युवा वोटरों को पार्टी की ओर आकर्षित करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं. यही वजह है कि पार्टी युवाओं को ये बताने में जुटी है कि कैसे पिछली सपा सरकार में टैबलेट और लैपटॉप बांटे गए थे. आगे भी ऐसी योजना लाए जाएंगे. इस संदर्भ में अखिलेश ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा था, "अब बाबा मुख्यमंत्री भी टैबलेट और लैपटॉप देख रहे हैं. हमारी सरकार में जो लैपटॉप दिए गए थे, वो अब तक चल रहे हैं."

अखिलेश का पीएम पर तंज, कहा- किसानों को नहीं रोकना था रास्ता, खाली कुर्सियों को सुनाते भाषण

बूथ मैनेजमेंट पर पार्टी का अधिक ध्यान

इस संबंध में पार्टी ने अपने संगठन पदाधिकारियों को पत्र लिखा है. इसमें कहा गया है, " हो सकता है कि गलत नाम वोटर लिस्ट में जुड़ गए हों, और सही नाम वोटर लिस्ट से कट गए हों. ऐसे में बूथ की वोटर लिस्ट के साथ पूरक लिस्ट का मिलान 9 जनवरी तक कर लिया जाए. पूरक लिस्ट में जोड़े गए नए नाम, काटे गए नाम व उनके पते दिए गए हैं. ऐसे में नामांकन की तारीख से 10 दिन पहले तक फार्म छह भर कर नाम जोड़े जा सकते हैं." वहीं पार्टी के बूथ प्रभारी वोटर लिस्ट के हिसाब से इनसे जुड़ने की कोशिश कर रहे हैं. इन्हें मतदान केंद्र तक लाने की जिम्मेदारी भी इन कार्यकर्ताओं के कंधे पर है.

उत्तर प्रदेश: LU कार्यपरिषद बैठक: 13 नए शिक्षकों की भर्ती, 17 को प्रमोशन

वहीं सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम का कहना है कि पार्टी ने बूथ, ब्लाक, सेक्टर सभी कमेटियां गठित कर सबको जिम्मेदारी दे दी है. हम लोग नए व पुराने वोटरों से संपर्क कर रहे हैं. यह सब भाजपा के झूठ से वाकिफ हो गए हैं इसी कारण राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की रथयात्रा में भीड़ उमड़ रही है. बूथ की लड़ाई हर जगह हम लोग ही जीतेंगे और सपा की सरकार इसी तरह बनेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें