यूपी चुनाव: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का दावा- BJP के बूथों में होगी भूतों की एंट्री

Swati Gautam, Last updated: Wed, 16th Feb 2022, 10:45 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के चलते कन्नौज तीरवा में एक जनसभा सम्बोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि पहले और दूसरे चरण के मतदान में ही सपा और सपा के गठबंधन ने शतक लगा लिया है. अगर कन्नौज का समर्थन मिला तो सातवें चरण तक बीजेपी के बूथों पर भूतों के अलावा कोई न जाए.
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (file photo)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी के चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं. बुधवार को कन्नौज तीरवा में एक जनसभा सम्बोधित करते हुए अखिलेश ने चुनावों में बीजेपी के बूथों में भूतों की एंट्री ही करा दी. अखिलेश यादव ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि पहले और दूसरे चरण के मतदान में ही सपा और सपा के गठबंधन ने शतक लगा लिया है और अगर कन्नौज का समर्थन मिला तो बीजेपी इतना पीछे छूट जाएगी कि सातवें चरण तक उनके बूथों पर भूतों के अलावा कोई न जाए.

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा धोखेबाज और झूठे हैं. इस डबल इंजन सरकार ने भ्रष्टाचार और अन्याय को दोगुना कर दिया है. वे (बीजेपी) लखीमपुर में अपने बुलडोजर क्यों नहीं चला रहे हैं? वहीं जनता को सचेत करते हुए अखिलेश ने कहा कि हम आपको सचेत कर रहे हैं, बाहरी लोग अफवाह फैला सकते हैं. मैंने सुना है कि कन्नौज में बहुत कम लोग वर्दी छोड़कर आए हैं.

रैली के दौरान पुलिसवालों पर भड़के अखिलेश यादव, कहा- तुमसे ज्यादा बदतमीज कोई नहीं हो सकता

कन्नौज में आयोजित जनसभा में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पहुंचे तो मंच पर वे पुलिसकर्मियों पर भड़क गए. अखिलेश अचानक ए पुलिस, ऐ पुलिस वालों, बोलने लगे तो पंडाल में भी सन्नाटा छा गया. दरअसल कुछ पुलिसकर्मी समर्थकों को पंडाल में आने से जबरन रोक रहे थे तभी अखिलेश यादव मंच से बोलने लगे कि ए पुलिस वालों, ऐ पुलिस, ऐ पुलिस वालों, क्यों कर रहे हो ये तमाशा, ऐ तुमसे ज्यादा बदतमीज कोई नहीं हो सकता, क्यों ऐसा कर रहे हो भाई. इसके बाद अखिलेश ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि लगता है ये सब बीजेपी वाले करवा रहे हैं. ये बीजेपी वालों ने रेड कार्ड इश्यू किए थे, याद है कि नहीं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें