पूर्व CM कल्याण सिंह की हालत नाजुक, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने की मुलाकात

Smart News Team, Last updated: 21/07/2021 02:32 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की हालत इन दिनों नाजुक बनी हुई है रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को उनके स्वास्थ्य जानने के लिए अस्पताल पहुंचे. कल्याण सिंह लखनऊ के संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती हैं.
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह से मुलाकात.( फाइल फोटो )

लखनऊ: देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस समय उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में है. राजनाथ सिंह ने बुधवार को यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह से मुलाकात की. रक्षा मंत्री ने अस्पताल पहुंचकर कल्याण सिंह से मुलाकात कर उनकी सेहत की जानकारी ली. राजनाथ सिंह ने कहा, ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ. बता दें कि इस समय कल्याण सिंह की हालत नाजुक बनी हुई है. कल्याण सिंह इस समय खुद से ऑक्सीजन नहीं ले पा रहे है. इस कारण उनके फेफड़ों और खून में पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति नही हो पा रहे है. मंगलवार की रात से डॉक्टरों कल्याण सिंह के गले में ट्यूब डालकर उन्हें ऑक्सीजन दे रहे है.

लखनऊ के संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कल्याण सिंह की सेहत में कोई सुधार नहीं हो रहा है. भाजपा के बड़े-बड़े नेता उनका हालचाल जानने के लिए लगातार अस्पताल पहुंच रहे है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कल्याण सिंह की सेहत जानने के लिए पिछले कुछ दिनों में की बार पीजीआई जा चुके है. मंगलवार को कल्याण सिंह को सांस लेने में दिक्कत होने लगी. डॉक्टर की टीम के उन्हे गले में ट्यूब लगाकर ऑक्सीजन दिला रहे हैं. इससे चिकित्सा भाषा में इंट्यूबेट (मैकेनिकल वेंटिलेशन) कहते हैं. कल यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने एसजीपीजीआई जाकर कल्याण सिंह का हाल जाना.

UP विधानसभा चुनाव को लेकर SP का अभियान शुरू, अखिलेश कर रहे रथयात्रा

पीजीआई निदेशक डॉ. आरके धीमन बताते हैं कि क्रिटिकल केयर मेडिसिन (सीसीएम) के आईसीयू में भर्ती पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के उपचार में लगी विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम ने बुधवार सुबह वार्ड का निरीक्षण कर उनकी सेहत का जायजा लिया. उनकी हालत अभी नाजुक बनी हुई है. शरीर में संक्रमण अभी भी बना हुआ है. कल्याण सिंह के उपचार में दिल, गुर्दा, डायबिटीज, न्यूरो, यूरो, गैस्ट्रो व क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग समेत 12 विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम लगातार निगरानी कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें