VIDEO: यूपी के चिड़ियाघर में मना बाघिन मरियम का जन्मदिन, 6 KG का हैप्पी बर्थडे मटन केक

SHOAIB RANA, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 9:23 PM IST
  • यूपी के गोरखपुर जू में मरियम बाघिन का बर्थडे मनाया गया. 17 साल की बाघिन के लिए स्पेशल 6 किलो का मटन केक भी तैयार कराया गया. साथ ही जू अधिकारियों और कर्मचारियों ने मरियम के लिए बर्थडे सॉन्ग भी गाया.
जू में मरियम बाघिन का मनाया गया स्पेशल मटन केक के साथ जन्मदिन

लखनऊ. आपने अभी तक इंसानों की बर्थडे पार्टी देखी होगी या सुनी होगी लेकिन क्या आपने कभी जानवरों की जन्मदिन पार्टी या उनके लिए तैयार स्पेशल केक के बारे में सुना है. अगर नहीं तो यूपी के गोरखपुर जू में मनाए गए बाघिन के बर्थडे के बारे में थोड़ा जरूर जान लीजिए. जी हां, गोरखपुर के शहीद अशफाक उल्ला चिड़ियाघर में मरियम नाम की बाघिन का जोरों शोरों के साथ बर्थडे मनाया गया. ये मरियम का 17वां जन्मदिन था और उपहार के तौर पर उसके लिए स्पेशल 6 किलों का मटन केक भी तैयार कराया गया. इतना ही नहीं, केक देने के बाद जू के अधिकारियों और कर्मचारियों ने बाघिन के लिए बर्थडे सॉन्ग भी गाया. वाकई यह सब एक देखने वाला मूमेंट था जिसे वहां पहुंचे काफी लोगों ने अपने कैमरे और मोबाइल में भी कैप्चर कर लिया.

मरियम बाघिन का बर्थडे कई मायनों में खास भी था, पहली बात तो इस प्रजाती की उम्र सीमा 17 से 18 तक सिर्फ होती है. ऐसे में मरियम की उम्र 17 साल हो चुकी है और हाल ही में वो काफी बीमार भी थी. काफी लंबे चले ट्रीटमेंट के बाद मरियम की सेहत में सुधार देखने को मिला. मरियम जब ठीक हुई तो जू के अधिकारियों ने इस मूमेंट को शानदार तरह से सेलिब्रेट करने का प्लान बनाया. इसके लिए मरियम का पसंदीदा मटन का केक भी तैयार करवाया गया.

पटना जू में धूप का मजा लेते नाग-नागिन करने लगे रोमांस, वीडियो वायरल

मरियम और उसके लिए तैयार स्पेशल 6 किलो का मटन केक

मालूम हो कि मरियम नाम की इस बाघिन को गुजरात की गिर वाइल्ड लाइफ सेंचुरी से रेस्क्यू किया गया था. जिसके बाद मरियम को पहले जूनागढ़ के जू और फिर करीब दो साल पहले गोरखपुर जू लाया गया था. उम्र के आखिरी पड़ाव चल रही मरियम बाघिन की सेहत का काफी खास तरह से ख्याल रखा जा रहा है. बीमार होने पर उसका तीन डॉक्टरों और एक्सपर्ट की एक टीम ने इलाज किया था. अब फिलहाल मरियम सेहतमंद है और पार्टी के बाद मटन केक खाकर काफी खुश है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें