लखनऊ: अब भवन निर्माण श्रमिकों का होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, दलालों से मिलेगी आजादी

Smart News Team, Last updated: 01/09/2020 07:36 AM IST
  • श्रमिकों को उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए बोर्ड में ऑनलाइन रजिस्ट्रशेन कराना होगा.
भवन निर्माण श्रमिकों का होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन.

लखनऊ. अब यूपी में राज्य मुख्यालय भवन निर्माण में काम कर रहे श्रमिकों को उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए बोर्ड में ऑनलाइन रजिस्ट्रशेन कराना होगा. साथ ही पहले से पंजीकृत 20 लाख श्रमिकों के रजिस्ट्रशेन का नवीनीकरण भी ऑनलाइन माध्यम से किया जाएगा. 

माना जा रहा है कि इस व्यवस्था से श्रमिक दलालों के चंगुल से मुक्त हो सकेंगे. साथ ही श्रमिकों को लाभकारी योजनाओं का फायदा बिना किसी दलाल के चंगुल में आए मिल सकेगा. श्रमिकों को मजदूरी के रुपये सीधे उनके खाते में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे. अब श्रमिकों को अपना पंजीकरण प्रमाणपत्र लेने के लिए श्रम कार्यालयों में भाग-दौड़ नहीं करना पड़ेगा. 

अयोध्या बाबरी विध्वंस केस में CBI कोर्ट में फैसले से पहले 1 सितंबर को आखिरी बहस

जानकारी के अनुसार इस योजना का प्रस्ताव उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड का यह प्रस्ताव श्रम विभाग जल्द ही यूपी सरकार के कैबिनेट बैठक में सामने रखेगा. बताया जा रहा है कि बोर्ड के नियमावली में संशोधन किए जाने के बाद श्रमिकों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रशेन की व्यवस्था शुरू हो जाएगी. यूपी सरकार ने श्रम विभाग को निर्देश दिया है कि अभियान चलाकर 81 लाख नए श्रमिकों का ऑनलाइन रजिस्ट्रशेन करें. श्रमिक ऑनलाइन रजिस्ट्रशेन जनसुविधा केंद्र पर करा सकते हैं. 

PM के मन की बात को Dislike मिलने पर अखिलेश बोले- पलटे हुए अंगूठे पलटते हैं सत्ता

श्रमिकों को ऑनलाइन रजिस्ट्रशेन कराने के लिए 80 रुपए देने होंगे. इसके साथ ही श्रमिकों को सालाना 20 रुपये के हिसाब से तीन साल तक के लिए 60 रुपये में नवीनीकरण कराना होगा. जनसुविधा केंद्र पर श्रमिकों को दो फोटो, आधार कार्ड, बैंक की पासबुक की फोटो कॉपी और भवन निर्माण का काम करने का स्वहस्ताक्षरित प्रमाणपत्र ले जाना होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें