लखनऊ में ओमिक्रोन की दस्तक, जिलों में 1000 से अधिक केस होने पर बढ़ेंगे कई तरह के प्रतिबंध

Haimendra Singh, Last updated: Wed, 5th Jan 2022, 9:52 AM IST
  • यूपी सरकार ने जिलों के 1000 से अधिक केस होने पर रेस्टोरेंट्स, होटल और फूड ज्वाइंट्स 50 फीसदी क्षमता से ही संचालित किया जाएगा. इसके अलावा स्विमिंग पूल, वाटर पार्क और जिम बंद रहेंगे. 
यूपी के जिलों में 1000 केस से अधिक होने पर बढ़ेंगी पाबंदियां.( सांकेतिक फोटो)

लखनऊ. कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन ने यूपी की राजधानी लखनऊ में दस्तक दे दी है. मंगलवार को यहां नए वेरिएंट से 8 लोग संक्रमित पाए गए, वहीं पूरे यूपी 23 नए मामले सामने आए. स्टेट कोविड आफिसर डॉक्टर विकासेंदु अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा है कि अब राज्य में  ओमिक्रोन के मामलों की सख्या 31 हो गई है. फिलहाल सभी संक्रमित मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है. कोविड से संक्रमित मरीजों की जिलों में 1000 से ज्यादा सख्या होने पर सरकार ने कई तरह के प्रतिबंधों का दायरा बढ़ाने के निर्देश दिया है.

मंगलवार को यूपी में ओमिक्रोन के 23 मामले सामने आए. जिसके बाद लखनऊ में 08, मेरठ में 05, गाजियाबाद और मुजफ्फरनगर में 03, मुरादाबाद, कानपुर और आगरा में 02 तथा महाराजगंज, रायबरेली, मेरठ और नोएडा में एक-एक केस मिले है. कोविड केसों में फिर से इजाफा होने के बाद सरकार ने सभी जिलों में चौकसी बढ़ाने के निर्देश जारी किया हैं. सरकार द्वारा बनाए गए नए दिशा निर्देशों को छह जनवरी से लागू कराने को कहा गया है. जिन जिलों में कोविड के एक हजार से अधिक केस होंगे वहां पर प्रतिबंधों का दायरा बढ़ जाएगा. ऐसे जिलों में स्वीमिंग पुल, वाटर पार्क और जिम बंद रहेंगे. तो वहीं रेस्टोरेंट, होटल और फूड ज्वाइंट्स को 50 फीसदी क्षमता से ही संचालित करने होंगे.

यूपी में कोरोना का कहर जारी, एक्टिव मामलों की संख्या 3 दिनों में तीन गुना बढ़ी

शाही समारोहों और बंद स्थानों पर 100 लोगों को अनुमति

यूपी सरकार के नए मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र कोविड के नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं. 1000 से अधिक कोविड के एक्टिव वाले जिलों में कक्षा दस तक के सभी शैक्षणिक संस्थान छह जनवरी से 14 जनवरी तक बंद रहेंगे. इसके अलावा शादी समारोहों तथा अन्य आयोजनों में बंद स्थानों पर एक समय में 100 लोगों को अनुमति होगी.  इसके अलावा सभी कोविड प्रोटोकाल का पालन करना होगा.

तेजी से होगा 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण

कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के बाद सरकार ने 15 से 18 साल के किशोरों के टीकाकरण को और गतिशील करने के लिए स्कूल, कालेज आदि का भी उपयोग करने का फैसला किया है. इसके अलावा राशन व अन्य दुकानों को सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड नियमों का पालन करना होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें