ट्रक ड्राइवर मारपीट केस: पेश हुए मोहसिन रजा, गवाहों की गैर हाजिरी पर कोर्ट सख्त

Smart News Team, Last updated: Thu, 4th Feb 2021, 12:44 AM IST
  • ट्रक ड्राइवर से मारपीट पर योगी सरकार के मंत्री मोहसिन राजा के खिलाफ दर्ज मामले में एमपीएमएलए कोर्ट में गवाह पेश न होने से कोर्ट काफी सख्त नजर आया है. कोर्ट ने लखनऊ सीपी और डीजीपी को इस पर पत्र लिखते हुए कहा है कि वो गवाह पुलिसकर्मियों के पता और मौजूदा समय में कहां तैनात है इसकी जानकारी दें.
मंत्री मोहसिन राजा के खिलाफ दर्ज मामले में एमपीएमएलए कोर्ट में गवाह पेश न होने से कोर्ट काफी सख्त.

लखनऊ. बुधवार को ट्रक ड्राइवर से मारपीट पर योगी सरकार के मंत्री मोहसिन राजा के खिलाफ दर्ज मामले में एमपीएमएलए कोर्ट में गवाह पेश न होने से कोर्ट काफी सख्त नजर आया है. कोर्ट ने लखनऊ सीपी और डीजीपी को इस पर पत्र लिखते हुए कहा है कि वो गवाह पुलिसकर्मियों के पता और मौजूदा समय में कहां तैनात है इसकी जानकारी दें. हांलाकि मोहसिन रजा सुनवाई के समय कोर्ट में उपस्थित थे. 

एमपीएमएलए कोर्ट के विशेष न्यायाधीश पवन कुमार राय ने गवाह पुलिसकर्मियों ने गैर हाजरी पर नाराजगी जताई है. इस पर न्यायधीश ने डीजीपी व सीपी लखनऊ को पत्र लिखते हुए कहा है कि वो गवाह दरोगा प्रदीप कौशिक व कांस्टेबल सुरेंद्र कुमार की इस समय तैनाती कहां है या बताया जाए कि वो कहां के रह रहे है. कोर्ट ने ये जानकारी 20 फरवरी तक मांगी है . कोर्ट इस पर पहले भी जानकारी मांग चुका है लेकिन थाने से यही रिपोर्ट मिल रही है कि गवाहों की वर्तमान नियुक्ति, पता, व मोबाइल नंबर की जानकारी नहीं मिल रही है.

केन्द्र सरकार की तरह UP सरकार पेश करेगी पेपरलेस बजट, विधायकों को दिए जाएंगे टैबलेट

मामले में कोर्ट ने पुलिस की कार्यशैली पर भी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि कितनी हैरान करने वाली बात है कि पुलिस गवाहों का पता नहीं लगा पा रही है. मामला 19 मई 1989 का है जब वादी लल्लन नाम के शख्स ने मोहसिन रजा और अकबर हुसैन के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया था. आरोप था कि इन दोनों ने ट्रक ड्राइवर के साथ मारपीट की थी. मामले में फरवरी 2019 में वादी की गवाही दर्ज कराई थी. 

PM मोदी के भाई लखनऊ एयरपोर्ट पर धरने पर बैठे, अनशन की दी चेतावनी, जानें वजह

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें