लखनऊ: निजी और सरकारी अस्पतालों की हालत का ब्यौरा देने वाला सरकारी पोर्टल जारी

Smart News Team, Last updated: Sun, 25th Apr 2021, 11:08 PM IST
बड़े महानगरों की तरह लखनऊ में भी अब लोग कोरोना मरीज के भर्ती के लिए निजी और सरकारी अस्पतालों के बेड की स्थिति जान पाएंगे. जिसके लिए स्थानीय प्रशासन ने एक सरकारी पोर्टल लांच किया है. जिस पर निजी और सरकारी अस्पताल डीएसओ पोर्टल पर लॉग इन करने अपने अस्पताल की स्थिति को बताएंगे.
लखनऊ के हॉस्पिटल में बेड की जानकारी के लिए पोर्टल जारी. (प्रतीकात्मक चित्र)

लखनऊ : यूपी की राजधानी लखनऊ में कोविड के बेड की जानकारी के लिए एक सरकारी पोर्टल जारी किया गया है. इस पोर्टल से लोग लखनऊ के अस्पतालों की स्थिति जान पाएंगे. सभी सरकारी व निजी अस्पतालों को डीएसओ पोर्टल पर जाकर लॉग इन करना होगा. साथ ही अस्पतालों को इस पोर्टल पर रोज का आईसीयू, ऑक्सीजन , वेंटिलेटर, यूनिट के बेड, आइसोलेशन की स्थिति पोर्टल पर अपडेट करते रहेंगे. प्रभारी जिलाधिकारी रौशन जैकब ने बताया कि आम जनता इस पोर्टल के माध्यम से अस्पताल में कितने बेड खाली हैं यह पता कर सकती है. 

लखनऊ के स्मार्ट सिटी सभागार में प्रभारी जिलाधिकारी रौशन जैकब और कमिश्नर रंजन कुमार ने समीक्षा बैठक की. और इस दौरान इस सरकारी पोर्टल की जानकारी दी. कमिश्नर रंजन कुमार ने होम आइसोलेशन में भर्ती मरीजों के हाल-चाल को जानने के लिए एक व्यवस्था बनाने का निर्देश दिया है. साथ ही होम आइसोलेशन के मरीजों की देखभाल के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर डॉक्टरों की तैनाती का निर्देश दिया. ये डॉक्टर होम आइसोलेशन में भर्ती किसी भी मरीज की हालत बिगड़ने पर उसकी जानकारी इंटीग्रेटेड कोविड कंट्रोल कमांड सेंटर में देंगे. जहां मरीज को अस्पताल में बेड दिया जाएगा.

कोरोना से जंग लड़ रहा 'टाइगर', लखनऊ के प्राइवेट अस्पताल में चल रहा इलाज

प्रभारी जिलाधिकारी रौशन जैकब ने बताया कि सोमवार से चिनहट में स्थित महात्मा गांधी एमसीएच विंग चिनहट में 60 बेड का ऑक्सीजन युक्त अस्पताल शुरू होगा. इसके अलावा प्रभारी जिलाधिकारी ने निजी क्षेत्र के 55 अस्पतालों को संक्रमित मरीजों को तुरंत भर्ती करने का निर्देश दिया है. अगर निजी अस्पताल संक्रमित मरीज की भर्ती के सीएमओ की चिट्ठी का मांग करेंगे. तो उन पर सीधी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.

यूपी में UPRVUNL भर्ती परीक्षा स्थगित, जानें नई एग्जाम डेट की जानकारी

CM योगी का आदेश, अस्पताल नहीं कर सकते कोविड मरीज का इलाज करने से इनकार, खर्चा..

अखिलेश यादव की सपा की मांग- फ्री में हो कोरोना की जांच, इलाज और टीकाकरण

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें