UP सरकार देगी निकाय कर्मियों के सीधे खाते में सैलेरी, ई-वेतन साफ्टवेयर होगा शुरू

Smart News Team, Last updated: Thu, 26th Aug 2021, 9:38 AM IST
  • अब जल्द हीं ई-वेतन साफ्टवेयर की मदद से निकाय कर्मचारियों को आनलाईन वेतन सीधे उनके खाते में मिलेंगे. क्योंकि यूपी सरकार इस महिनें के अंत तक अपने सभी 707 निकायों में ई-वेतन साफ्टवेयर अनिवार्य रूप से अमल में लाने का निर्देश दे चुकी है. 
ई-वेतन साफ्टवेयर के माध्यम से वेतन का भुगतान करेगी साथ हीं अन्य भत्ता भी सीधे उनके खाते में आनलाईन के जरिए ट्रांसफर करेगी. (PTI Photo/Nand Kumar)(PTI02_22_2021_000083B)

लखनऊ. यूपी सरकार जल्द हीं सभी निकाय कर्मचारियों को ई-वेतन साफ्टवेयर के माध्यम से वेतन का भुगतान करेगी साथ हीं अन्य भत्ता भी सीधे उनके खाते में आनलाईन के जरिए ट्रांसफर करेगी. अब तक सूबे के 585 निकायों में ई-वेतन साफ्टवेयर का सफल ट्रायल हो चुका है और बाकी बचे निकायों में भी इस महिने के अंत तक साफ्टवेयर इस्तेमाल करने का कड़ा निर्देश दे दिया गया है.

गौरतलब हो कि सूबे में कुल 707 निकाय हैं. जिसमें 17 नगर निगम और 200 पालिका परिषद है इसके आलावा 490 नगर पंचायत है अभी अधिकतर निकायों में कर्मचारियों को हाथों-हाथ वेतन दिया जा रहा है. और इसके चलते आए दिन गड़बड़ी की शिकायतें मिलती रहती हैं. शिकायतो को देखते हुए स्थानीय निकाय निदेशालय ने इससे ऩिजात पाने की तरकीब अपनाने का फैसला लिया है और इसके लिए ई-वेतन साफ्टवेयर तैयार कराया है. साथ हीं सभी निकायों को आनलाईन वेतन भुगतान व्यवस्था अपनाने की नसीहत भी दी है.

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना: बेटी पैदा होने पर शिक्षा, शादी के लिए योगी सरकार देगी 50 हजार रुपए

बता दें कि इस साफ्टवेयर के पूरी तरह अमल में आते ही वेतन, ग्रेज्युटी, छुट्टी नगदीकरण, वेतन एरियर, पेंशन एरियर ऑनलाईन दिए जाएंगे. इसके आलावा टीडीएस और अन्य तरह की सभी कटौतियां ऑनलाइन हीं की जाएगी. स्थानीय निकाय निदेशक शकुंतला गौतम ने इस संबंध में सभी निकायों को निर्देश दिया है. उन्होंने कहा है कि ई-वेतन साफ्टवेयर के माध्यम से ही वेतन और अन्य सभी भुगतान किए जाएंगे. सभी निकाय इसी माह से इसे अनिवार्य रूप से अमल में लाएंगे.

मोदी सरकार का बड़ा फैसला- अब इतनी बढ़ जाएगी बैंक कर्मचारियों की पेंशन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें