स्टार्टअप नीति 2020 पर काम करेगी योगी सरकार, डेढ़ लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

Smart News Team, Last updated: Sun, 3rd Jan 2021, 11:03 AM IST
  • रोजगार को बढ़ावा देने के लिए 100 नए इनक्यूबेटर की स्थापना करने जा रही है जिसका उद्देश्य स्टार्टअप को तैयार करना है. इस समय प्रदेश में लगभग 18 इनक्यूबेटर कार्य कर रहे हैं. सरकार का लक्ष्य है कि प्रदेश के हर जिले में इनक्यूबेटर स्थापित किया जाए. स्इन इनक्यूबेटर की सहायता से प्रबंधन प्रशिक्षण या अन्य जरूरी सेवाएं प्रदान करके नई स्टार्टअप कंपनियों को तैयार करने के लिए मदद मिलेगी.
स्टार्टअप्स योजना को बढ़ावा देने के लिए काम करेगी योगी सरकार.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए 100 नए इनक्यूबेटर की स्थापना करने जा रही है जिसका उद्देश्य स्टार्टअप को तैयार करना है. इस समय प्रदेश में लगभग 18 इनक्यूबेटर कार्य कर रहे हैं. सरकार का लक्ष्य है कि प्रदेश के हर जिले में इनक्यूबेटर स्थापित किया जाए. स्इन इनक्यूबेटर की सहायता से प्रबंधन प्रशिक्षण या अन्य जरूरी सेवाएं प्रदान करके नई स्टार्टअप कंपनियों को तैयार करने के लिए मदद मिलेगी. सरकार का उद्देश्य 10 हजार नए स्टार्टअप्स स्थापित करना है जिससे लगभग 50 हजार लोगों को प्रत्यक्ष औक करीब 1 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार किया जा सकेगा.

अभी तक वर्ष 2017 से पहले उत्तर प्रदेश में केवल 200 स्टार्टअप थे और पिछले तीन साल 3406 स्टार्टअप स्थापित हो चुके है. इनमें 17 गुणा इजाफा हुआ है. इन नए स्टार्टअप स्थापित होने से करीब 22 हजार लोगों को रोजगार मिल सका है.स्पार्टअप्स के बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि अपर मुख्य सचिव आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स आलोक कुमार ने बताया कि प्रदेश में 73 जिलों में स्टार्टअप स्थापित किये गए हैं. इन स्टार्टअप के जरिए 10 हजार लोगों को प्रत्यक्ष और12 हजार लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार उपलब्ध हुआ है.

मकान बनाना हुआ महंगा, सरिया-सीमेंट-ईंट-गिट्टी के दाम बढ़े, जानें नए रेट

बता दें कि वर्तमान में औद्योगिक नगर नोएडा में सबसे अधिक 1154 स्टार्टअप्स स्थापित किए गए हैं. वहीं गाजियाबाद में 533, लखनऊ में 500 और प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र सहित पूर्वांचल क्षेत्र के जिलों में कुल 1219 स्टार्टअप्स को स्थापित किया जा चुके हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें