लखीमपुर खीरी हिंसा: गृह राज्य मंत्री के बेटे समेत 14 अज्ञात के खिलाफ हत्या सहित इन धाराओं में मुकदमा दर्ज

Nawab Ali, Last updated: Mon, 4th Oct 2021, 9:52 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में किसानों के प्रदर्शन के दौरान काई किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ाने पर किसानों की मौत के बाद हुई हिंसक झड़प के आरोप में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा समेत 14 लोगों के खिलाफ पुलिस ने हत्या, साजिश और बलवा सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया.
लखीमपुर खीरी हिंसा में गृह राज्य मंत्री के बेटे समेत 14 खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में किसानों के प्रदर्शन के दौरान काई किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ाने पर किसानों की मौत के बाद हुई हिंसक झड़प के आरोप में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा समेत 14 लोगों के खिलाफ पुलिस ने हत्या, साजिश और बलवा सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया. सभी आरोपियों के खिलाफ लखीमपुर के तिकुनिया थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. बहराइच के जगजीत सिंह की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है. किसानों की मांग है कि जब दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाएगी तब तक शहीद किसानों का अंतिम संस्कार नहीं होगा.

लखीमपुर की घटना के बाद देशभर के किसानों में गुस्सा है और आज किसान पूरे देश में प्रदर्शन करेंगे. गृह राज्य मंत्री के बेटे पर आरोप के बाद मंत्री ने कहा है कि किसानों के प्रदर्शन में शामिल शरारती तत्वों ने गाड़ियों के काफिले पर हमला किया है जिस कारण गाड़ी बेकाबू हुई है. वीडियो में किसान भाजपा कार्यकर्ताओं की लाठी-डंडों और तलवारों से मारपीट करते नजर आ रहे हैं. गृह राज्य मंत्री ने कहा है कि मारा बेटा घटना स्थल पर नहीं कार्यक्रम स्थल पर मौजूद था अगर वो घटना के समय मौजूद होता तो उसकी भी पीट-पीटकर हत्या कर दी जाती. उन्होंने कहा है कि हमारे तीन भाजपा कार्यकर्ताओं और ड्राईवर की हत्या हुई है इसके खिलाफ एफआईआर कराएंगे.

यूपी चुनाव में जीत के लिए 20 फीसदी मुस्लिम वोटों पर भी BJP की नजर, ये है प्लान

लखीमपुर में हुई घटना को लेकर देशभर में किसानों में आक्रोश है. तमाम विपक्षी पार्टियां भाजपा सरकार पर निशाना आध रही हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी लखीमपुर पहुंच चुकी है लेकिन खबर है कि प्रियंका गांधी को मृतक किसानों के परिजनों से मिलने नहीं दिया जा रहा है. प्रियंका ने पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं उन्होंने कहा है कि लखीमपुर तक पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की और कार्यकर्ताओं की पिटाई भी की है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें