लखनऊ: फरार आरोपी वकीलों का पता बताने पर मिलेगा 25 हजार का इनाम, जानें पूरा मामला

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Fri, 7th Jan 2022, 4:47 PM IST
  • लखनऊ पुलिस ने गुरूवार को एक संगीन मामलें में फरार चल रहे 4 वकीलों का पता बताने वाले को 25-25 हजार रूपए का इनाम देने की घोषणा कर दी है. दरअसल आरोपी वकीलों को पुलिस एक महिला अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ACJM के साथ अभद्र व्यवहार व टिप्पणी करने के मामले में तलाश कर रही है.
लखनऊ पुलिस ने 4 फरार आरोपी वकीलों पर 25- 25 हजार रूपए के इनाम की घोषणा की

लखनऊ. लखनऊ पुलिस ने गुरूवार को पिछले कुछ दिनों से फरार चल रहे 4 वकीलों का पता बताने वाले को 25-25 हजार रूपए का इनाम देने की घोषणा कर दी है. दरअसल इन आरोपी वकीलों को पुलिस एक महिला अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी Additional Chief Judicial Magistrate के साथ अभद्र व्यवहार व टिप्पणी करने के मामले में तलाश कर रही है. वकीलों के रवैये से नाराज होकर इनके खिलाफ वजीरगंज कोतवाली में महिला एसीजेएम द्वारा तहरीर दी गई थी. पुलिस ने नामजद FIR दर्ज कर इस मामले में आरोपियों को पहले ही नोटिस भेजा था. फिर पुलिस ने गिरफ्तार करने के लिए इनके संबंधित ठिकानो पर छापेमारी भी की लेकिन आरोपी वकील को पकड़ पाने में सफल नहींं हो पायी थी. इसलिए अब इन फरार चल रहे वकीलों पर इनाम घोषित किया गया है. 

बता दें कि महिला एसीजेएम द्वारा एक केस पर सुनवाई के बाद कुछ वकीलों ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया था. साथ ही इन वकीलों ने उस दौरान उनको अपशब्द भी बोला था. बुरे बर्ताव का विरोध करने पर आरोपी वकीलों ने महिला ACJM को धमकियां दी थी. वकीलों के रवैये से नाराज होकर पीड़ित महिला अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ने उनके खिलाफ राजधानी के वजीरगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज करा दी थी. पीड़ित महिला न्यायिक अधिकारी ने वकील शरद यादव, अभिषेक शुक्ला, सौरभ प्रताप सिंह और राजकुमार शर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराया था. जिन पर गुरुवार को डीसीपी पश्चिम सोमेन वर्मा ने इनाम घोषणा कर दी है. इसके आलावा कानूनी औपचारिकतायें पूरी करने के बाद इन आरोपियों की सम्पत्ति कुर्क करने के लिये भी कोर्ट से अनुमति लेने के लिये अर्जी दी जायेगी.

खुशखबरी ! पोस्ट ऑफिस से भी रेल यात्रा के लिए बुक करा सकेंगे टिकट

बता दें कि आए दिन इस तरह के मामले सुनने को मिलते हैं कि राह चलते महिला या युवती पर मनबढें युवकों ने अभद्र टिप्पणी कर दी है. मगर अब राज्य की राजधानियों नें तैनात न्याायिक व्यवस्था की हिस्सा बनी महिलाओं पर भी पुरूषों द्वारा इस तरह के व्यवहार किए जाने के मामले सामने आ रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें