किसान महापंचायत में बोले राकेश टिकैत- कृषि कानून की वापसी तक घर का मुंह नहीं देखेंगे

Nawab Ali, Last updated: Sun, 5th Sep 2021, 9:19 PM IST
  • तीन कृषि कानूनों के विरोध में पश्चिमी यूपी के मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत का आयोजन किया गया. किसान महापंचायत में देशभर के कई राज्यों के लाखों किसानों ने मुजफ्फरनगर के जीआईसी मैदान में हुंकार भरी. मंच से किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है की जब तक तीनों किसान कानून केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार वापस नहीं लेती तब तक वो घर नहीं लौटेंगे.
किसान नेता राकेश टिकैत की प्रतिज्ञा जब तक कृषि कानून वापस नहीं होंगे घर नहीं लौटेंगे. (फोटो क्रेडिट राकेश टिकैट ट्विटर)

मेरठ. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान महापंचायत का आयोजन किया. मुजफ्फरनगर के जीआईसी मैदान में देशभर के कई राज्यों से आये लाखों किसानों ने हुंकार भरी है. किसान महापंचायत में देश के 300 से ज्यादा संगठनों ने भाग लिया है. भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रिय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए कहा है की जब तक केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार तीनों काले किसान कानूनों को वापस नहीं लेती है तब तक वो घर नहीं लौटेंगे. केंद्र सरकार द्वारा किसान कानून पास करने के बाद से ही किसान आंदोलन कर रहे हैं. महापंचायत के मंच से राकेश टिकैत ने प्रधानमंत्री और सीएम योगी पर किसानों के साथ धोखा करने का आरोप लगाया है.

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रिय प्रवक्ता राकेश टिकैत 9 महीनों से गाजीपुर बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन में डटे हुए हैं. राकेश टिकैत ने कहा था की जब तक केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार तीनों किसान कानून वापस नहीं लेती है तब तक वो घर नहीं लौटेंगे. किसान आंदोलन के नौ महीने के बाद भी राकेश टिकैत मुजफ्फरनगर अपने घर नहीं गए हैं. किसान नेता राकेश टिकैत मुजफ्फरनगर में होने वाली किसान महापंचायत में हिस्सा लेने पहुंचे थे लेकिन मुजफ्फरनगर आने के बाद भी वो अपने घर गए बिना ही गाजीपुर लौट गए हैं.

मुजफ्फरनगर महापंचायत से टिकैत का ऐलान- 27 को किसानों का भारत बंद, 9-10 सितंबर लखनऊ में मीटिंग

किसान महापंचायत के मंच से राकेश टिकैत ने कहा है की जब तक कानून वापस नहीं होते हैं किसान आंदोलन जारी रहेगा. पूरे देश में किसान आंदोलन करते रहेंगे. जब तक हमारी मांग पूरी नहीं तब तक घर नहीं लौटूंगा. किसान आंदोलन की शुरुआत करने के बाद राकेश टिकैत ने कसम खाई थी. आंदोलन के बाद वो कई बार मुजफ्फरनगर की सीमा से गुजरे लेकिन वो घर नहीं गए और आज भी महापंचायत में हिस्सा लेने के बाद वापस गाजीपुर बॉर्डर लौट गए हैं. मुजफ्फरनगर में हुई किसान महापंचायत में  एलान किया है कि 27 सितंबर को कृषि कानूनों के खिलाफ भारत बंद किया जायेगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें