फोटो वीडियो: राहुल, प्रियंका का हाथरस मार्च ग्रेटर नोएडा में रोका, अरेस्ट, रिहा

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 04:21 PM IST
  • हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, अजय लल्लू, रणदीप सिंह सूरजेवाला, जितिन प्रसाद, पीएल पूनिया समेत कांग्रेसियों का काफिला ग्रेटर नोएडा में ही रोक लिया गया. राहुल और प्रियंका जाने की जिद पर अड़े तो अरेस्ट हुए जिन्हें बाद में रिहा कर दिया गया है.
हाथरस जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी से धक्का मुक्की करती यूपी पुलिस. 

लखनऊ. हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से मिलने जा रहे हाथरस जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पुलिस ने ग्रेटर नोएडा में ही गिरफ्तार कर लिया. दोनों नेताओं को बाद में रिहा कर दिया गया लेकिन यूपी पुलिस उन्हें लेकर दिल्ली तक छोड़ने आई ताकि वो दोबारा ना हाथरस निकल जाएं. इससे पहले ग्रेटर नोएडा में पुलिस की कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ झड़प हुई और दो बार लाठीचार्ज हुआ. पुलिस के बल प्रयोग में कई कांग्रेसी नेताओं को चोट लगी है.

पुलिस ने जब राहुल गांधी के काफिले को ग्रेटर नोएडा में रोका तो वो प्रियंका गांधी, अजय लल्लू, रणदीप सिंह सूरजेवाला, जितिन प्रसाद, पीएल पूनिया जैसे नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ पैदल ही एक्सप्रेसवे पर हाथरस की तरफ बढ़ने लगे. पुलिस ने जब पैदल जाने से भी रोक दिया तो झड़प हुई और फिर लाठी चली जिसमें राहुल गांधी जमीन पर गिर गए. राहुल ने कहा कि पुलिस ने उन्हें धकेला और लाठी मारकर गिराया है.

हाथरस जाते राहुल, प्रियंका को नोएडा में अरेस्ट के बाद छोड़ा, गेस्ट हाउस से निकले

इसके बाद दोबारा पुलिस अधिकारी राहुल से हाथरस ना जाने पर बात करने लगे लेकिन वो नहीं जाने तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. राहुल का पुलिस से बहस करता एक वीडियो कांग्रेस पार्टी ने ट्वीटर पर डाला है जिसमें वो पुलिस से कह रहे हैं कि उन्हें किस सेक्शन के तहत अरेस्ट किया जा रहा है. पुलिस पहले धारा 144 कहती है तो वो कहते हैं कि वो अकेले पैदल जाना चाहते हैं. फिर पुलिस वाले कहते हैं कि धारा 188 के तहत अरेस्ट किया जा रहा है क्योंकि आप डीएम के आदेश का उल्लंघन कर रहे हैं.

राहुल गांधी-प्रियंका गांधी को हाथरस जाने से रोकने के लिए हर रूट पर पुलिस

यूपी पुलिस उसके बाद दोबारा लाठीचार्ज करके राहुल और प्रियंका गांधी को गिरफ्तार करके ले गई. दोनों को बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट के गेस्ट हाउस में रखकर समझाने की कोशिश की गई कि वो हाथरस ना जाएं. बाद में दोनों को निजी मुचलके पर पुलिस ने रिहा कर दिया और फिर साथ में दिल्ली छोड़ने निकल गई.  

यूपी: राहुल, प्रियंका की गिरफ्तारी के विरोध में कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन

अब आगे फोटो में देखिए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का दिल्ली से ग्रेटर नोएडा तक का सफर, पुलिस से धक्का-मुक्की और कार्यकर्ताओं की भीड़.

हाथरस कांड: लखनऊ में सपा के प्रदर्शन पर लाठीचार्ज, नेताओं को पुलिस ने पीटा

शुरुआत इस फोटो से करते हैं जिसमें पुलिस से धक्का-मुक्की और गिरने के बाद उठे कांग्रेस नेता राहुल गांधी को संभालती दिख रही हैं बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी
जैसे ही राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के हाथरस जाने की खबर फैली, दिल्ली-नोएडा सीमा पर डीएनडी टोल प्लाजा पर यूपी पुलिस के जवान बड़ी संख्या में तैनात कर दिए गए.
राहुल और प्रियंका के हाथरस गैंगरेप पीड़ित के परिजनों से मिलने जाने की खबर मिलते ही आस-पास के इलाकों के कांग्रेसी कार्यकर्ता यूपी सीमा पर जमा हो गए. और फिर पहुंचा राहुल-प्रियंका का काफिला.
राहुल गांधी के साथ जितिन प्रसाद, रणदीप सिंह सूरजेवाला, पीएल पूनिया भी थे.
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की कार में उनके साथ यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी बैठे थे. अजय लल्ल यूपी में इस समय वो नेता हैं जो जहां जाते हैं वहीं उनको पुलिस रोक लेती है या गिरफ्तार कर लेती है.
राहुल और प्रियंका गांधी का काफिला दिल्ली से यूपी में घुसा तो पुलिस की तैनाती और बढ़ती गई. इंतजाम तो ऐसा किया गया था कि राहुल फरीदाबाद या भरतपुर के रास्ते भी ना घुसें.
ग्रेटर नोएडा जीरो प्वाइंट पर राहुल और प्रियंका का काफिला रोक दिया गया. प्रशासन ने कहा कि उन्हें हाथरस नहीं जाने दिया जाएगा. इससे शांति व्यवस्था में दिक्कत पैदा हो सकती है.
कभी बाइक तो कभी कार से चर्चित मामलों में पीड़ितों से मिलने जाते रहे राहुल गांधी ने फिर पैदल ही हाथरस की तरफ मार्च शुरू कर दिया. साथ में सारे कांग्रेसी हो लिए. जहां रोका गया वहां से हाथरस लगभग 120 किलोमीटर दूर है.
राहुल गांधी के साथ-साथ तमाम कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता और प्रियंका गांधी भी हाथरस पैदल मार्च में शामिल हो गईं.
पुलिस ने राहुल और प्रियंका को साफ तौर पर हाथरस जाने से रोक दिया और कहा कि वो पैदल भी नहीं जा सकते. राहुल ने कहा कि वो अकेले पैदल जाना चाहते हैं तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया.
और फिर राहुल गांधी के साथ चल रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठी चली. राहुल के साथ पुलिस ने धक्का-मुक्की की. राहुल बोले कि उन्हें लाठी मारकर गिराया गया.
राहुल गांधी से हाथरस जाने के दौरान ग्रेटर नोएडा में यूपी पुलिस की धक्का-मुक्की फोटो
राहुल गांधी से हाथरस जाने के दौरान ग्रेटर नोएडा में यूपी पुलिस की धक्का-मुक्की फोटो
राहुल गांधी से हाथरस जाने के दौरान ग्रेटर नोएडा में यूपी पुलिस की धक्का-मुक्की फोटो
राहुल गांधी से हाथरस जाने के दौरान ग्रेटर नोएडा में यूपी पुलिस की धक्का-मुक्की फोटो
राहुल गांधी से हाथरस जाने के दौरान ग्रेटर नोएडा में यूपी पुलिस की धक्का-मुक्की फोटो
राहुल गांधी से हाथरस जाने के दौरान ग्रेटर नोएडा में यूपी पुलिस की धक्का-मुक्की फोटो

अब आपको दिखाते हैं कांग्रेस पार्टी के ऑफिसियल ट्वीटर हैंडल से डाले गए फोटो और वीडियो वाले कुछ ट्वीट जिससे आपको ग्राउंड जीरो का ज्यादा क्लीयर व्यू मिल पाए. इसमें राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के सवाल के वीडियो हैं, उनके पैदल मार्च के वीडियो हैं, उनसे पुलिस की धक्का-मुक्की के वीडियो हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें