यूपी पंचायत चुनावः दिल्ली में की जाएगी इतने बैलेट पेपरों की गिनती, ये है वजह

Smart News Team, Last updated: Wed, 30th Dec 2020, 10:32 PM IST
  • यूपी पंचायत चुनाव के लिए दिल्ली में मतपत्रों की छपाई हो रही है. इसलिए 52 लाख 84 हजार बैलेट पेपरों की गिनती दिल्ली में की जाएगी. इसके लिए प्रभारी जिला भी नियुक्त करा दिया है. इसके साथ ही बैलेट पेपरों की नंबरिंग का मिलान किया जाएगा.
यूपी पंचायत चुनाव के 52 लाख 84 हजार बैलेट पेपरों की गिनती दिल्ली में होगी.

लखनऊ. यूपी पंचायत चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए दिल्ली में मतपत्रों की गिनती होगी. फिरोजाबाद के 52 लाख 84 हजार बैलेट पेपर गिने जाएंगे. मतपत्रों की गिनती के अलावा बैलेट पेपर की नंबरिंग का भी मिलान होगा. ये मतपत्र दिल्ली में छपवाए गए हैं. भेजने से पहले उनकी गिनती की जाएगी ताकि बाद में दिक्कत न आए.

इन मतपत्रों को दिल्ली से लाने के लिए मतपत्र प्रभारी अपनी टीम के साथ जिला मुख्यालय से दिल्ली के लिए रवाना होंगे. उपायुक्त उद्योग और मतपत्र प्रभारी अमरेश कुमार पांडेय ने बैलेट पेपरों की गिनती के लिए चार टीमें गठित कर दी हैं. हर टीम का प्रभारी जिला उद्योग केन्द्र के सहायक प्रबंधकों को बनाया गया है. हर टीम प्रभारी के साथ दो-दो कर्मचारी भी होंगे जो बैलेट पेपरों की गिनती करेंगे.

लखनऊ: भू-माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, 1 हजार करोड़ की जमीन कब्जे से मुक्त

दिल्ली में बैलेट पेपर की गिनती के अलावा, उनकी नंबरिंग का मिलान भी किया जाएगा. जिससे बाद में किसी तरह की परेशानी न हो. यूपी पंचायत चुनाव में इस्तेमाल होने वाले बैलेट पेपरों के रंग तय कर दिए गए हैं. 2015 की तरह ही इस बार भी मतपत्रों जैसी ही बैलेट पेपर के रंग होंगे. इनमें ग्राम प्रधान के लिए हरा, जिला पंचायत सदस्य के लिए गुलाबी, क्षेत्र पंचायत सदस्य के लिए नीला और ग्राम पंचायत सदस्य के लिए सफेद रंग के बैलेट पेपर होंगे. 

लखनऊ: 6 दुकानों को LDA ने किया सील, लोगों ने कार्रवाई का किया विरोध

इस बार यूपी पंचायत चुनाव में चार पदों के लिए एक साथ वोट डलवाए जाने की तैयारी की जा रही है. सरकार ने यूपी में चुनाव कराने के लिए राज्य को चार भागों में बांटकर चुनाव कराने की तैयारी की जा रही है. इस बारे में जल्द ही फैसला लिया जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें