UP पंचायत चुनावः प्रत्याशी को नामांकन करने से मना या धमकी दी तो होगी जेल

Smart News Team, Last updated: 06/04/2021 06:20 PM IST
  • यूपी पंचायत चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने पूरी तरह से कमर कस ली है. गोंडा जिले के जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रत्याशियों को बताया कि अगर कोई नोमिनेशन दाखिल न करने के लिए धमकी या मना करता है तो उसको जेल भेजा जाएगा.
उत्तर प्रदेश में 15 अप्रैल से त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने हैं.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 15 अप्रैल से त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव होने हैं. अगर कोई नामांकन पत्र खरीदने, प्रत्याशी को धमकी देने और नोमिनेशन दाखिल करने से मना करता है तो शिकायत करने पर उस पर केस करके जेल भेजा जाएगा. यूपी के गोंडा जिले में जिला निर्वाचल अधिकारी ने प्रत्याशियों को बताया कि अगर कोई ऐसा करता है तो उसकी शिकायत रिटर्निंग ऑफिसर से करें.

इस बारे में जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही ने कहा कि निर्वाचन लड़ने की इच्छा रखने वाले किसी भी प्रत्याशी को यदि कोई धमकी देता है, पर्चा खरीदने से मना करता या नामांकन दाखिल करने से मना करता है या फिर ब्लॉक का कोई अधिकारी कर्मचारी नामांकन पत्र खरीदने से मना करता है इसकी सूचना तत्काल ब्लॉक पर तैनात रिटर्निंग ऑफिस को तत्काल दी जाए.

यूपी में पंचायत चुनाव को देखते हुए धारा-144 लागू, बिना अनुमति जुलूस पर पाबंदी

इसके अलावा इसकी शिकायत जनपद स्तर पर कलेक्ट्रेट के कंट्रोल रूम के नंबर 05262-230125 पर भी कर सकते हैं. जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि लोकतंत्र में सबकों चुनाव लड़ने का अधिकार है और यदि कोई किसी को पर्चा खरीदने से मना करता है तो ये बहुत ही गंभीर अपराध है. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करते हुए जेल भेजने की कार्रवाई होगी.

पंचायत चुनाव: अपने कैंडिडेट को सपोर्ट करने मैदान उतरीं MBA, B.Tech की छात्राएं

वहीं जिले के एसपी संतोष कुमार ने पंचायत चुनाव को देखते हुए मंगलवार को रिजर्व पुलिस ग्राउंड में पुलिस कर्मचारियों को अभ्यास कराया. एसपी ने अधिकारियों और कर्मचारियों को चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से कराने के और बिना किसी प्रलोभन और हस्तक्षेप के ड्यूटी करने का संदेश दिया. उन्होंने दंगाइयों पर काबू पाने तैयारियों और विषम परिस्थितियों में उनकी उपयोगिता के बारे में बताया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें