यूपी पंचायत चुनाव 2021: बूथों पर महिला कर्मियों की अनिवार्यता खत्म

Smart News Team, Last updated: 05/03/2021 07:39 AM IST
  • अनिवार्यता खत्म हो जाने के बाद अब महिला कर्मी कहीं भी तैनात की जा सकेंगी संभव है कि किसी बूथ पर तीन महिला तो किसी पर एक भी नहीं, वर्ष 2015 के पंचायत चुनाव में प्रत्येक बूथ पर एक महिला चुनाव ड्यूटी कर्मचारी की अनिवार्य कर दी गई थी.
यूपी पंचायत चुनाव 2021: बूथों पर महिला कर्मियों की अनिवार्यता खत्म

लखनऊ: यूपी में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में इस बार हर बूथ पर महिला कर्मी की अनिवार्यता नहीं रहेगी. अनिवार्यता खत्म हो जाने के बाद अब महिला कर्मी कहीं भी तैनात की जा सकेंगी. संभव है कि किसी बूथ पर तीन महिला तो किसी पर एक भी नहीं. वर्ष 2015 के पंचायत चुनाव में प्रत्येक बूथ पर एक महिला चुनाव ड्यूटी कर्मचारी की अनिवार्य कर दी गई थी. इस बार 1748 बूथों पर पंचायत चुनाव होने हैं इसके लिए कर्मियों की तैनाती का कार्य शुरू हो गया है.

 सिर्फ मतदान केंद्रों और बूथों पर ही 6992 कर्मचारी तैनात होंगे. इसमें पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम, मतदान अधिकारी द्वितीय, और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को प्रत्येक बूथ पर तैनात किया जाना है. इनके अलावा माइक्रो ऑब्जर्वर, जोनल सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की जानी है. कुल मिलाकर 24000 कर्मचारियों का आंकड़ा जिला मुख्यालय में पहुंच चुका है. इनमें से कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के आधार पर कर्मचारियों को मतदान केंद्र और बूथ आवंटित किए जाएंगे. इन कर्मचारियों में 3000 महिलाएं भी हैं.

लखनऊ में दो लोगों के खिलाफ केस दर्ज, करोड़ों की जमीन पर कब्जा करने का आरोप

पंचायत आरक्षण को लेकर आईं 14 आपत्तियां

त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के लिए प्रधान बीडीसी व जिला पंचायत सदस्य के आरक्षण की अंतिम सूची जारी होने के बाद आपत्तियों की प्रतीक्षा शुरू हो गई है. इसी क्रम में गुरुवार को पहले दिन 14 आपत्तियां आई हैं. इनमें बीजेपी समेत अनेक पार्टियों के लोग भी शामिल हैं. जिला पंचायत अधिकारी कार्यालय में 6 और बीकेटी ब्लॉक में 8 आपत्ति आई हैं. 

योगी सरकार का बड़ा फैसला, पूर्व सैनिकों को ग्रुप सी के पदों पर मिलेगा 5% आरक्षण

बीकेटी में गुरुवार को प्रधान पद की 4 सीटों के लिए 8 आपत्तियां बीडीओ के नाम जमा हुए हैं. गुलालपुर के लिए भाजपा से अनुराग सिंह वह पूर्व रामप्रवेश पाल की ओर से आपत्तियां दर्ज की गई है. शुभा नगर अधिगम में नीर वर्तमान प्रधान लक्ष्मण प्रसाद ने और पारा के लिए मतीन रामगोपाल ने आपत्ति की उनके अलावा कई ने अपनी आपत्ति बीकेटी खंड विकास कार्यालय में जमा किया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें