UP पंचायत चुनाव 2021 से पहले ग्राम प्रधानों की बढ़ी मुश्किलें, उम्मीदवारों ने अपनाया नया हथकंडा

Smart News Team, Last updated: Sat, 27th Feb 2021, 3:16 PM IST
  • यूपी पंचायत चुनाव 2021 से पहले वर्तमान ग्राम प्रधानों के खिलाफ तहसील और ब्लाक में शिकायतें बढ़ गई है. वही साथ में समाजसेवी भी बढ़े है जो याचिकर्ताओं की याचिका अधिकारीयों और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंचने में मदद भी कर रहे है.
UP पंचायत चुनाव 2021 से पहले ग्राम प्रधानों की बढ़ी मुश्किलें, उम्मीदवारों ने अपनाया नया हथकंडा

लखनऊ. यूपी में पंचायत चुनाव जैसे जैसे नजदीक आते जा रहे है वैसे वैसे वर्तमान ग्राम प्रधान के खिलाफ शिकायतें भी ज्यादा मिलने लगी है. ये शिकायतें अधिकतर राशन कार्ड, पट्टा और आवास जैसी सुविधाओं को लेकर प्रतिदिन तहसील और ब्लाक में अधिकारियों के पास पहुंच रही है. वही इन दिनों पंचायत चुनाव की तैयारी में प्रशासन के साथ साथ उम्मीदवार भी लगें हुए है. वही ग्रामीणों को मूलभूत सुविधाएं दिलाने के लिए समाजसेवी भी सामने आने लगे है और यह शिकायतकर्ता की बात अधिकारियों तक पहुचाने में मदद भी कर रहे है.

इसी तरह नगराम इलाके में एक गांव के संभावित प्रत्याशी के साथ कई ग्रामीण तहसील पर पट्टे में जमीन नहीं मिलने और अपात्रों को पट्टा मिल जाने की शिकायत लेकर पहुंचे. साथ उहोने ने इसकी शिकायत तहसील के अधिकारियों से लेकर मुख्यमंत्री तक से कर रहे है. इतना ही नही ग्राम प्रधान पर पट्टा देने के नाम पर हजारों रुपए वसूलने के आरोप भी लगा है. ऐसे ही आस पास के कई ग्राम में गांव प्रधानों पर योजनाओं का लाभ नहीं देने की शिकायत आ रही है.

योगी सरकार के एक कदम से पंचायत चुनाव के उम्मीदवारों को होगा फायदा, जानिए कैसे

इन फरियादियों की मदद समाजसेवी प्राथना पत्र लिखवाने से लेकर अधिकारियों तक लाने तक सहायता कर रहे है. वही एसडीएम विकास सिंह ने बताया कि प्रतिदिन मौजूदा ग्राम प्रधान के खिलाफ शिकायतें आ रही है कि प्रधान ने उन्हें योजनाओं का लाभ नहीं दिया है. उन्हीने ने आगे कहा कि इन शिकायतों की जांच की जा रही है. साथ ही इसकी भी जांच की जा रही है कि कहि ये सभी शिकायतें चुनावी रंजिस के चलते तो नहीं किया जा रहा है.

CM योगी के निर्देश-इन राज्यों से आने वालों के लिए एक हफ्ते का क्वारंटीन अनिवार्य

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें