लखनऊ: पशुधन घोटाले में राज्यमंत्री जय प्रकाश से पूछताछ, DIG निलंबन के बाद सख्ती

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 07:56 AM IST
  • पशुधन घोटाले में रविवार को राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद से पूछताछ की गई. मंत्री ने कहा कि वह इस फर्जीवाड़े के बारे में कुछ नहीं जानते थे. पूछताछ में उनके सचिव और मुख्य आरोपी आशीष राय के बारे में भी कई सवाल किए गए.
पशुधन राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद से पशुधन घोटाले के बारे में पूछताछ.

लखनऊ. पशुपालन विभाग में आटे की सप्लाई के नाम पर हुए फर्जीवाड़े में पशुधन राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद ने बयान दिया कि उन्हें घोटाले की कोई जानकारी नहीं थी. मिली जानकारी के अनुसार मंत्री से कई प्रश्न पूछे गए. पुलिस अधिकारी का मानना है कि मंत्री के जवाब और पहले हुई कार्रवाई के जवाबों को मिलाकर देखा जाएगा.

एसपी गोमतीनगर और उनकी टीम ने डेढ़ घंटे तक मंत्री जय प्रकाश से पूछताछ की जिसमें सबसे ज्यादा सवाल निजी प्रधान सचिव और मुख्य आरोपी आशीष राय के बारे में हुए. रविवार को जय प्रकाश ने विवेचक को बयान देते हुए कहा कि वह इस फर्जीवाड़े से पूरी तरह से अंजान थे.

पशुधन घोटाले में इंदौर के व्यापारी मंजीत सिंह भाटिया का नाम भी सामने आया है जिसने ठेका दिलाने के नाम पर नौ करोड़ 72 लाख रुपए हड़प लिए. 

लखनऊ: RML अस्पताल में इलाज के अभाव में महिला की मौत,सवाल करने पर परिजनों को पीटा

मुख्यमंत्री योगी ने इस मामले की जांच एसटीएफ को सौंपी थी. पीड़ित के कहने पर हजरतगंज में 13 जून की रात को एफआईआर दर्ज कराई गई थी. पशुधन मामले में कई लोगों की गिरफ्तारी के बाद राज्यमंत्री का बयान लेना भी जरुरी था. 

गौरतलब है कि पशुधन राज्यमंत्री के पर्सनल हेड सैकेट्री रजनीश दीक्षित के कमरे में ही पशुपालन विभाग का फर्जी दफ्तर बनाया गया था. इसी कमरे से आरोपी आशीष राय खुद को एसके मित्तल का व्यापारी बनकर मिलता था.  

बीजेपी MP कौशल किशोर की हालत बिगड़ी,कोरोना रिपोर्ट फिर पॉजिटिव,मेदांता में भर्ती

पशुधन फर्जीवाड़े में पीड़ित को धमकाने के मामले में तत्कालीन एसपी अरविंद सेन को निलंबित करने के बाद मामले को गंभीर समझते हुए विवेचकों ने राज्यमंत्री से पूछताछ की है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें