अब से कोटेदारों को दिखाना होगा कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट, वरना नहीं मिलेगा फ्री राशन

Swati Gautam, Last updated: Mon, 8th Nov 2021, 5:19 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में अब जिन लोगों व उसके परिवार ने कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाई है उन्हें फ्री राशन नहीं मिलेगा. जिन लोगों के पास टीकाकरण प्रमाण पत्र नहीं हैं उन उपभोक्ताओं को लिखित जवाब देना होगा की कब तक वे कोरोना वैक्सिन लगवा लेंगे इसके बाद ही कोटेदार को फ्री राशन (गेहूं, चावल) आदि देने की अनुमति होगी.
अब से कोटेदारों को दिखाना होगा कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट, वरना नहीं मिलेगा फ्री राशन. file photo

लखनऊ. देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर अभियान चलाने के बावजूद अभी भी कई ऐसे लोग हैं जिन्होंने कोरोना वैक्सिन की डोज नहीं लगवाई हैं. ऐसे में लोगों को जागरूक करने और वैक्सीनेशन का टारगेट पूरा करने के लिए सीडीओ ईशा प्रिया ने नई पहल की है जिसमें जिन लोगों व उसके परिवार ने कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाई है उन्हें फ्री राशन नहीं मिलेगा. साथ ही जिन लोगों के पास टीकाकरण प्रमाण पत्र नहीं हैं उन उपभोक्ताओं को लिखित जवाब देना होगा इसके बाद ही कोटेदार को फ्री राशन (गेहूं, चावल) आदि देने की अनुमति होगी. यानी कि आप भी कोटेदार से सरकारी खाद्यान्न लेते हैं और अभी तक आपने कोरोना का टीका नहीं लगवाया है तो आपकी मुश्किल बढ़ने वाली हैं.

सीडीओ ने बताया कि त्योहारी सीजन के चलते टीकाकरण की रफ्तार मंद पड़ गई है. ऐसे में लोगों को टीकाकरण के प्रति जागरूक करना होगा. सीडीओ ने जिला पूर्ति अधिकारी के माध्यम से जिले के सभी कोटेदारों को पत्र भी जारी कराया है जिसमें सख्त निर्देश दिया गया है कि उपभोक्ताओं का टीकाकरण प्रमाण पत्र देखने के बाद ही उन्हें खाद्यान्न दिया जाए. बता दें कि जिन उपभोक्ताओं या उनके परिवार के किसी व्यक्ति ने अब तक टीका नहीं लगवाया है उन्हें लिखित जवाब देना होगा जिसके बाद बाद ही उन्हें खाद्यान्न दिया जाएगा. लिखित जवाब में बताना होगा कि किस तारीख तक परिवार का प्रत्येक व्यक्ति टीका लगवा लेगा.

CM योगी के आदेश, फ्री टैबलेट और स्मार्टफोन देने वाले छात्रों की बने लिस्ट, जानें कब होंगे रजिस्ट्रेशन

जानकारी अनुसार कोटेदार उपभोक्ताओं से लिए गए लिखित जवाब की प्रति जिला पूर्ति अधिकारी व स्वास्थ्य विभाग को भी उपलब्ध कराएंगे. इसके बाद गांव में टीकाकरण का शिविर आयोजित होने पर प्रत्येक व्यक्ति को बुलाकर टीका लगाया जाएगा. सीडीओ का कहना है कि लोग कोरोना वैक्सीन लगवाने में लापरवाही बरत रहे हैं ऐसे में कोटेदारों की मदद लेकर वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने आगे कहा कि कोटेदारों के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग शत-प्रतिशत लोगों को टीका लगा सकेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें