सावधान! रेमडेसिविर की जल्दबाजी में ना हो जाए ठगी, ऐसे हो रहा ऑनलाइन फ्रॉड

Smart News Team, Last updated: 03/05/2021 06:17 PM IST
  • लखनऊ में रेमडेसिविर इंजेक्शन दिलाने का झांसा देकर रुपये हड़पने वाले मामला सामने आया जिसके बाद पुलिस ने दो झांसेबाज किशोर गिरफ्तार किया जो खुद को दवा सप्लायर बताकर लोगों से ऑनलाईन रुपयों को ठगी करते थे.
सावधान! रेमडेसिविर की जल्दबाजी में ना हो जाए ठगी, ऐसे हो रहा ऑनलाइन फ्रॉड. ( सांकेतिक फोटो )

लखनऊ: कोरोना माहामारी जैसे आपदा के समय में मानवता को शर्मिंदा करने वाले लोगों को धोखा देने में लगे हैं. एक ऐसी ही घटना सामने आई है जब लखनऊ में रेमडेसिविर इंजेक्शन दिलाने का झांसा देकर रुपये हड़पने वाले मामला सामने आया जिसके बाद पुलिस ने दो झांसेबाज किशोर गिरफ्तार किया जो खुद को दवा सप्लायर बताकर लोगों से ऑनलाईन रुपयों को ठगी करते थे. फर्जी दवा सप्लायर ट्विटर पर रेमडेसिविर उपलब्धता का फर्जी मैसेज पोस्ट कर लोगों को अपना मोबाइल नंबर थे और जब लोग उन्हें कॉल करके रेमडेसिविर की मांग करते थे तब ये फर्जी दावा सप्लायर अपने ई-वॉलेट में पैसा मंगाते थे और दवा की सप्लाई नहीं देते थे.

साथ ही ये लोगों से पैसा लेने के बाद उनका फोन नंबर ब्लॉक कर देते थे, या फिर कॉल नहीं उठाते थे. इसी तरह की कई घटनाएं दुसरे शहरों से भी रिपोर्ट हो रहीं हैं. इसके पहले मध्य प्रदेश के रीवा में एक युवक लोगों को ऑनलाइन रेमडेसिविर उपलब्ध कराने के लिए ऑनलाइन पैसे मांगते लेकिन सप्लाई नहीं दी. पुलिस के मुताबिक आरोपी ने रेमडेसिविर उपलब्ध करवाने का झांसा दिया था और जब हरियाणा के फरीदाबाद के रहने वाले सुमित गोस्वामी नाम के युवक ने उससे इंजेक्शन के लिए संपर्क किया था. ठग अभिषेक ने उससे 21 हजार रुपए ऑनलाइन लिए थे और बाद में इंजेक्शन भी नहीं दिया था.

लखनऊ जिलाधिकारी ने गठित की टीम-9, करेंगे कोरोना मरीजों की मदद

जिसके बाद फरीदाबाद के रहने वाले अभिषेक ने ऑनलाइन रीवा पुलिस से शिकायत की थी. जिसके आधार पर पुलिस ने तफ्तीश शुरु की और अब आरोपी अभिषेक को गिरफ्तार किया. पुलिस ने बताया कि पूरे देश में रेमडेसिविर इजेक्शन को लेकर मारामारी मची है जिसको देखते हुए उसके दिमाग में ठगी की योजना बनाई. उसने अपने पास काफी संख्या में रेमडेसिविर इंजेक्शन होने की जानकारी दी और ऐसे लोगों को टारगेट किया जिनके परिजन कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं और उनके स्वस्थ होने के लिए रेमडेसिविर की आवश्यकता है. पुलिस को आशंका है कि आरोपी ने कुछ और लोगों के साथ ठगी की है जिसके बारे में पूछताछ की जा रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें