शाइन सिटी के मालिकों के खिलाफ यूपी पुलिस का एक्शन, 50-50 हजार का इनाम घोषित

Smart News Team, Last updated: Sun, 4th Apr 2021, 5:58 PM IST
  • लखनऊ पुलिस ने शाइन सिटी के मालिक राशिद नसीम और उसके भाई असीम नसीम पर 50-50 हजार रुपए का इनाम रखा है. शाइन सिटी के मालिक पर 70 हजार करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है. धोखधड़ी के कई मुकदमे कंपनी निदेशक पर दर्ज हैं.
शाइन सिटी के मालिक और उसके भाई पर पुलिस ने 50-50 हजार रुपए का इनाम घोषित किया. प्रतीकात्मक तस्वीर

लखनऊ. करोड़ों रुपए की ठगी के मामले में यूपी की राजधानी लखनऊ में पुलिस ने शाइन सिटी के मालिक राशिद नसीम और उसके भाई असीम नसीम के खिलाफ 50-50 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है. मिली जानकारी के मुताबिक, रियल एस्टेट कंपनी मेसर्स शाइन सिटी इन्फ्रा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड ने अलग-अलग फर्जी योजनाओं के नाम पर यूपी समेत कई राज्यों में कराड़ों की ठगी की थी.

आपको बता दें कि शाइन सिटी कंपनी के निदेशक 70 हजार करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करके गायब है. देश भर से इस कंपनी के 10 लाख से ज्यादा पीड़ित सामने आए हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, शाइन सिटी कंपनी ने प्लाॅट, ज्वैलरी, इलेक्टानिक्स, प्रोडक्ट्स समेत कई फर्जी योजनाओं से लोगों को झांसे में लेकर ठगा था. कंपनी मालिकों पर यूपी और बिहार में अलग-अलग थानों में मुकदमे दर्ज है.

मेदांता के निदेशक और UP के हेल्थ डायरेक्टर वैक्सीनेशन के बाद कोरोना पॉजिटिव

आपको बता दें कि रियल एस्टेट कंपनी मेसर्स शाइन सिटी इन्फ्रा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड का निदेशक राशिम नसीद ने 2013 में इस कंपनी को शुरू किया था. इससे पहले वो एक रियल एस्टेट कंपनी में काम करता था. शाइन कंपनी लोगों को तीन साल में पैसा दोगुना करने और सस्ते प्लांट का झांसा देती थी. इस झांसे में आकर लोगों ने अपना पैसा कंपनी में जमा कर दिया.

पूर्व मंत्री और समाजवादी चिंतक भगवती सिंह का निधन, अखिलेश यादव ने दी श्रद्धांजलि

इसी तरह शाइन कंपनी के मालिक राशिम नसीद 70 हजार करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करके गायब है. इस मामले में पिछले साल वाराणसी से शाइन कंपनी के अधिकारी अमिताभ श्रीवास्तव को गिरफ्तार किया था. पूछताछ में उसने पुलिस को बताया था कि राशिम नसीद दुबई भाग गया है और वहीं से अपनी स्कीम चलाता है. पुलिस ने राशिम नसीद और उसके भाई पर 50-50 हजार का इनाम रखा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें