UP Police SI Result : नार्मलाइज्ड मार्क्स से तय होगा यूपी दारोगा भर्ती का रिजल्ट

Smart News Team, Last updated: Thu, 24th Feb 2022, 7:48 PM IST
  •  उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड ( UPPBPB) जल्द ही पुलिस सबइंस्पेक्टर (SI), प्लाटून कमांडर और अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के कुल 9534 पदों पर भर्ती के दी गई ऑनलाइन लिखित परीक्षा का रिजल्ट जारी कर सकता है. एग्जाम रिजल्ट रिलीज होने के बाद परीक्षार्थी uppbpb.gov.in पर चेक कर पाएंगे.
UP Police SI Result 

 लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड ( UPPBPB) जल्द ही पुलिस सबइंस्पेक्टर (SI), प्लाटून कमांडर और अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के कुल 9534 पदों पर भर्ती के दी गई ऑनलाइन लिखित परीक्षा का रिजल्ट जारी कर सकता है. एग्जाम रिजल्ट रिलीज होने के बाद परीक्षार्थी uppbpb.gov.in पर चेक कर पाएंगे.

भर्ती के लिए लिखित परीक्षा खत्म हुए लंबा समय हो चुका है. यूपी पुलिस सबइंस्पेक्टर (SI), प्लाटून कमांडर और अग्निशमन द्वितीय अधिकारी के कुल 9,534 पदों पर भर्ती के लिए ऑनलाइन लिखित परीक्षा का आयोजन किया गया था, जिसके रिजल्ट के इंतजार के बीच दारोगा भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों को यह समझ लेना चाहिए कि नॉर्मलाइजेशन पद्धति क्या होती है क्योंकि उन्हें इसी सिस्टम के आधार पर मार्क्स मिलने वाले हैं.

जानिए क्या है नॉर्मलाइजेशन पद्धति

ऑनलाइऩ लिखित परीक्षा के प्रत्येक विषय में 35 फीसदी अंक होना आवश्यक है. इसके साथ टोटल मार्क्स 50 प्रतिशत अंक होना जरुरी है. अगर कोई अभ्यर्थी इतने प्रतिशत अंक पाने में असफल होता है तो वो भर्ती के लिए पात्र नहीं माना जाएगा. वे अभ्यर्थी चयन प्रक्रिया के अगले चरण में प्रतिभाग करने के लिए योग्य नहीं होंगे.

UPTET Result 2021 : यूपीटीईटी आंसर की जल्द होगी जारी, कभी भी आ सकता है रिजल्ट

आपको बता दें कि प्रश्न पत्रों के कठिनाई के स्तर में समानता लाने के लिए व्यापक तौर पर मार्क्स नॉर्मलाइजेशन का फॉर्मूला अपनाया जाता है. इस पद्धति से विभिन्न शिफ्टों के प्रश्न पत्र के कठिनता के स्तर को एक लेवल पर लाया जाता है. परीक्षा में शामिल सभी अभ्यर्थियों के मार्क्स को एक फॉर्मूले के तहत नॉर्मलाइज किया जाता है.

रेलवे भर्ती बोर्ड भी पिछले कई सालों से विभिन्न परीक्षाओं में इस Marks Normalization की पद्धति अपनाता आ रहा है. ऐसा कई बार हो चुका है, जब कई उम्मीदवारों के अंक कुल अंकों से भी ऊपर चले गए. उम्मीदवार द्वारा प्राप्त किए रॉ मार्क्स उसके नार्मलाइज्ड मार्क्स तय करने में बेहद महत्वपूर्ण होते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें