खुशखबरी! यूपी में बिछेगा सौर ऊर्जा परियोजनाओं का जाल, बुंदेलखंड बनेगा हब

Sumit Rajak, Last updated: Sat, 8th Jan 2022, 8:33 AM IST
  • उत्तर प्रदेश में 4000 मेगावाट सोलर एनर्जी जनरेशन संयंत्र स्थापित करने और इससे पैदा होने वाली बिजली को स्वतंत्र पारेषण तंत्र के माध्यम से दिए जाने के लिए पारेषण कार्य जल्द शुरू हो सकेगा. कैबिनेट ने पारेषण कार्य को पीपीपी मोड के स्थान पर उ.प्र. पावर ट्रांसमिशन कारपोरशन लि. द्वारा ईपीसी मोड से कराने को मंजूरी दे दी है.
फाइल फोटो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 4000 मेगावाट सोलर एनर्जी जनरेशन संयंत्र स्थापित करने और इससे पैदा होने वाली बिजली को स्वतंत्र पारेषण तंत्र के माध्यम से दिए जाने के लिए पारेषण कार्य जल्द शुरू हो सकेगा. कैबिनेट ने पारेषण कार्य को पीपीपी मोड के स्थान पर उ.प्र. पावर ट्रांसमिशन कारपोरशन लि. द्वारा ईपीसी मोड से कराने को मंजूरी दे दी है. यह काम ग्रीन इनर्जी कारिडोर द्वितीय के तहत होना है.

4000 मेगावाट सोलर विद्युत संयंत्र तथा उससे उत्पन्न विद्युत के पारेषण कार्यों पर 5011.47 करोड़ रुपये खर्च होंगे. भारत सरकार द्वारा तय नियमों के तहत इसमें 33 फीसदी धनराशि भारत सरकार से अनुदान के रूप में मिलेगी. इसके अलावा मंत्रिपरिषद ने ओबरा “ब”   तापीय परियोजना पर फ्लू गैस डिसल्फाराजेशन संयंत्र की स्थापना को भी स्वीकृति दी है. वहीं बाराबंकी के गणेशपुर के शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में स्थित जीर्णशीर्ण भवनों की नीलामी को अनुमती मिल गई है. अयोध्या जिले में फैजाबाद-अकबरपुर बसखारी मार्ग के चैनल संख्या 118.250 से 199.2 00 लंबाई 80.950 किलोमीटर को चार लेन बनाने की पुनरीक्षित लागत को अनुमोदित कर दिया है. नोएडा भवन नियमावाली में सरकार ने कुछ बदलाव कर दिए हैं. जमीन अधिग्रहण मामले में 1 प्रतिशत  का अनुमन्य चार्ज से राजस्व विभाग कानून को छूट दे दी गई है.

लखनऊ: फरार आरोपी वकीलों का पता बताने पर मिलेगा 25 हजार का इनाम, जानें पूरा मामला

बताया जाता है कि इस पारेषण तंत्र को विकसित करने में बुंदेलखंड क्षेत्र में 132 केवी के 29 विद्युत सब स्टेशन स्थापित किए जाएंगे. साथ ही ट्रांसमिशन लाइन बिछाने का काम होगा. इस समय बुंदेलखंड क्षेत्र में 1000 मेगावाट के दो सोलर पार्क तथा अन्य छोटे-छोटे सोलर पार्क विकसित किए जाने के प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है.

यूपी में सोलर एनर्जी के नए प्लांट 

1200 मेगावाट के सोलर पार्क जालौन जिले में स्थापित किया जा रहा है. 

600 मेगावाट का सोलर इनर्जी पार्क ललितपुर में निजी दूसरे ज्वाइंट वेंचर टूष्को द्वारा स्थापित किया जा रहा है. 

600 मेगावाट का सोलर पार्क झांसी में स्थापित किया जा रहा है. 

800 मेगावाट का सोलर पार्क चित्रकूट में स्थापित किया जा रहा है. 

1000 मेगावाट सोलर इनर्जी बिल्डिंग के माध्यम से ले जानी है.

लखनऊ में अनुपयोगी माइनर के स्थान पर सड़क बनेगी 

लखनऊ जिले में तीन स्थानों पर सिंचाई विभाग की अनुपयोगी माइनर को निष्पयोजन घोषित करते हुए उन पर पीडब्ल्यूडी सड़क बनाएगा. चिनहट रजवाहे, नौबस्ता माइनर तथा बस्तौली माइनर की कुछ भूमि को पीडब्ल्यूडी ने सड़क निर्माण के लिए मांगा था. यह भूमि पीडब्ल्यूडी को निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें