यूपी धर्मांतरण: उमर गौतम का फरार बेटा अब्दुल्ला ATS ने किया अरेस्ट

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 7th Nov 2021, 4:45 PM IST
  • यूपी एटीएस ने अवैध धर्मांतरण मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए मौलाना उमर गौतम के बेटे अब्दुल्ला को गौतम बुद्ध नगर से गिरफ्तार कर लिया. आरोप है कि अब्दुल्ला ही धर्मांतरण के मामलों में फंडिंग कर रहा था. साथ ही कई धर्मांतरण कराने वालों से सीधे जुड़ा हुआ था.
उमर गौतम का बेटा अब्दुल्ला गिरफ्तार (फोटो सभार ट्विटर)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण के मामलों को लेकर यूपी एटीएस की कार्रवाई जारी है. उमर गौतम, मौलाना कलीम सिद्दाकी के बाद यूपी एटीएस ने काफी समय से फरार चल रहे उमर गौतम के बेटे अब्दुल्ला गौतम को यूपी के गौतम बुद्ध नगर से गिरफ्तार कर लिया है. आरोप है कि धर्मांतरण करने वालों को फंडिंग करने का काम अब्दुल्ला ही करता है. वहीं, कई अवैध धर्मांतरण कराने वालों से अब्दुल्ला की सीधी बातचीत थी. 

बता दें कि एटीएस इससे पहले उमर गौतम को भी अवैध धर्मांतरण और फंडिंग के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है. यूपी एटीएस अवैध धर्मांतरण के मामले में अभी तक करीब 20 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी कर चुकी है.

SSC GD Constable Admit Card: यूपी बिहार रीजन के लिए एसएससी ने जारी किए एडमिट कार्ड, करें चेक

उमर गौतम का काम देखता था अब्दुल्ला

एटीएस के अनुसार, धर्मांतरण को फंडिंग कराने का काम अब्दुल्ला ही देखता था. साथ ही जहांगीर आलम और कौसर से अब्दुल्ला सीधे संपर्क में था. एटीएस का आरोप है कि अब्दुल्ला गौतम अल फारूकी मस्जिद, मदरसा समेत इस्लामिक दावा सेंटर का उमर गौतम का पूरा काम देखता था.

अब्दुल्ला के खाते में मिले विदेशी फंडिंग के साक्ष्य

अब्दुल्ला की गिरफ्तारी के साथ एटीएस को छानबीन में विदेशी फंडिंग के कई साक्ष्य मिले हैं. एटीएस के अनुसार, अब्दुल्ला के पास भी उन माध्यमों से पैसा आया, जहां से उमर गौतम और उनके साथियों के पास से आता था. अब्दुल्ला के खाते में एटीएस को 75 लाख रुपये मिले हैं जिनमें 17 लाख रुपये विदेशों से आए हैं. अब एटीएस इस मामले में इस बिंदु पर जांच कर रही है कि अब्दुल्ला धर्मांतरण के मामलों में शामिल था, उसने खितना पैसा इन कामों में खर्च किया और अन्य कौन लोग इसमें शामिल हैं.

CM योगी ने लिस्ट तैयार करने के दिए निर्देश, नवंबर के अंत तक बटेंगे स्मार्ट फोन और टैबलेट

बता दें कि अवैध धर्मांतरण के आरोप में एटीएस ने उमर गौतम की गिरफ्तारी के बाद मौलाना कलीम सिद्दाकी, रामेश्वरम कावड़े, भूप्रिय बंदो, कौशर आलम समेत 20 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. इन सभी पर विदेशी फंडिंग के साथ अवैध धर्मांतरण के आरोप हैं. ये सभी 57 करोड़ से अधिक की विदेश फंडिंग ले चुके हैं. वहीं, एटीएस अनुसार ये लोग सैकड़ों लोगों का धर्मांतरण करवा चुके हैं, इसमें इन्होंने मूक बधिर स्कूल के बच्चों को भी अपना शिकार बनाया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें