यूपी आएं तो जरूर चखें मक्खन मलाई का स्वाद, ओस के नीचे रख कर बनती है डिश

Indrajeet kumar, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 1:02 PM IST
  • देश के अलग-अलग जगहों पर अलग अलग डिश बनाए जाते हैं. यूपी में भी खास मक्खन मलाई काफी लोकप्रिय है. इस खास डिश का नाम मक्खन मलाई है. ये डिश सिर्फ सर्दी के मौसम में बनाई जाती है.और मक्खन निकालने के लिए रात भर ओस के नीचे रखा जाता है.
मक्खन मलाई (फोटो सोर्स - सोशल मीडिया)

लखनऊ. देश के अलग-अलग हिस्से में अलग-अलग स्वाद की व्यंजन मिलती है. उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों जैसे लखनऊ, कानपुर, वाराणसी में मलाई मक्खन नाम की एक स्वीट डिश मिलती है. खास बात है कि यह डिश सिर्फ सर्दियों में बनती है. हालांकि अब लोग इसे काम सर्दी वाले मौसम में भी खाने लगे हैं. लेकिन इसकी अच्छी रेसिपी ओस के नीचे रखने के बाद ही बनती है. ये डिश मुख्य रूप से कानपुर की है लेकिन इसे अब यूपी के बहुत से जगहों पर बनाया जाने लगा है.

ओस में रात भर रखा जाता है दूध को

इस रेसेपी को दूध के झाग से बनाया जाता है. इस डिश में आमतौर पर दूध के ऊपर के झाग को इस्तेमाल करते हैं. मक्खन की मलाई निकालने के लिए एक बड़े बर्तन में दूध को उबालना पड़ता है. इसके बाद दूध की मात्रा के हिसाब से उसमें क्रीम मिलाई जाती है. कुछ देर तक दूध को उबलने के बाद उसमें केसर या नारंगी रंग, बहुत थोड़ी सी शक्कर और बारीक कटे ड्रायफ्रूट्स मिलाए जाते हैं. इसके बाद इस दूध को बड़ी बाल्टियों में भर के रात भर खुले आसमान के नीचे ओस में रख दिया जाता है. इस दुश में जितना ज्यादा ओस गिरता है मक्खन उतना ही ज्यादा निकलता है.

दूसरे दिन फेंटकर निकाला जाता है मक्खन

अगले दिन सुबह इस दूध को फेंटकर मक्खन निकाला जाता है. मक्खन निकालने के लिए ब्लेंडर मशीन का इस्तेमाल किया जाता है. मक्खन निकालने के लिए थोड़ी थोड़ी दूध को बारी बारी से मथा जाता है. मथने के बाद जो दूध में झाग आता है. उसे निकालकर अलग रखा जाता है और उसपर महीन कटी ड्राई फ्रूट डालकर सर्व किया जाता है. ये डिश दूध के झाग से ही बनती है इसलिए इसे मलाई मक्खन कहते हैं.

साइबर ठगों ने BJP विधायक के भतीजे को बनाया शिकार, ठगे डेढ़ लाख रुपए, FIR दर्ज

स्वाद में होता है काफी अलग

मलाई मक्खन का स्वाद थोड़ा मीठा, और स्वादिष्ट होता है. इस डिश को डाइट कांशस लोग भी आराम से कहा सकते हैं. घर पर इस डिश को बनाने वाले लोग दूध उबालने और ठंडा होने के बाद आठ से दस घंटे के लिए फ्रिज में रख देते हैं. फिर सुबह मिक्सर के मदद से थोड़ा थोड़ा कर के मक्खन निकलते हैं. इसे बनाने में काफी समय लगता है इसलिए काफी सावधानी से मखहन निकालना चाहिए. मक्खन निकालने के बाद जो दूध बचता है वो भी काफी स्वादिष्ट होता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें