यूपीटीईटी: सॉल्वर गिरोह का भंडाफोड़, सेंध लगा रहे तीन लेखपाल व सरगना समेत 28 लोग गिरफ्तार

Sumit Rajak, Last updated: Mon, 24th Jan 2022, 7:14 AM IST
  • रविवार को हुई शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) में एसटीएफ और क्राइम ब्रांच की सक्रियता से प्रयागराज, वाराणसी, मेरठ व मुरादाबाद में सॉल्वर गेंग के सरगना समेत 28 लोगों को गिरफ्तार किया गया. प्रयागराज में एसटीएफ और पुलिस की सख्ती के बाद भी बिहार के सॉल्वर गेंग शिक्षक पात्रता परीक्षा में सेंधमारी करने में लगे थे. लेकिन परीक्षा केंद्र तक पहुंचने से पहले ही क्राइम ब्रांच ने रविवार सुबह 13 लोगों को दबोचा लिया.
फाइल फोटो

लखनऊ. रविवार को हुई शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) में एसटीएफ और क्राइम ब्रांच की सक्रियता से प्रयागराज, वाराणसी, मेरठ व मुरादाबाद में सॉल्वर गेंग के सरगना समेत 28 लोगों को गिरफ्तार किया गया. प्रयागराज में एसटीएफ और पुलिस की सख्ती के बाद भी बिहार के सॉल्वर गेंग शिक्षक पात्रता परीक्षा में सेंधमारी करने में लगे थे. लेकिन परीक्षा केंद्र तक पहुंचने से पहले ही क्राइम ब्रांच ने रविवार सुबह 13 लोगों को दबोचा लिया.

खुल्दाबाद पुलिस की मदद से पकड़े गए इन 13 लोगों में तीन लेखपाल, आठ सॉल्वर और दो ड्राइवर शामिल हैं. एसपी सिटी दिनेश सिंह ने बताया कि कमलेश, राधेश्याम और राहुल एक ही बैच के लेखपाल हैं. कमलेश की प्रयागराज के मेजा में और राधेश्याम और राहुल की गोरखपुर जिले में तैनाती है.इनके पास से एक कार, अभ्यर्थियों का आठ प्रवेश पत्र, आठ अंक पत्र, नौ आधार कार्ड, 41900 रुपये बरामद हुए हैं. अब पुलिस असली अभ्यर्थियों की तलाश कर रही हैं. इसके अलावा फर्जीवाड़ा करने और गैंग में शामिल तीन अन्य को पुलिस ने वांछित किया है.

लखनऊ में सोमवार से मिलेगी ठंड से हल्की राहत, तापमान में बढ़ोतरी के आसार

वाराणसी संवाद के मुताबिक पूर्वांचल के पांच जिलों में रविवार को टीईटी के दौरान 11 लोग गिरफ्तार किए गए. सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. इनमें से कई के प्रवेश पत्र व आधार कार्ड पर फोटो बदला हुआ था. गाजीपुर से पांच, जौनपुर से तीन, आजमगढ़, बलिया और भदोही से एक-एक की गिरफ्तारी हुई है.

मुरादाबाद में साल्वर गैंग का सरगना गिरफ्तार

रविवार को बरेली एसटीएफ टीम की सक्रियता के चलते टीईटी परीक्षा में धांधलेबाजी होने से बच गई. टीम के सदस्यों ने साल्वर गैंग के सरगना को गिरफ्तार कर लिया. जिसके बाद परीक्षा में बैठने के लिए विहार से आ रहे साल्वर स्टेशन से फरार हो गए. पकड़े गए सरगना के पास से दो छात्रों के प्रवेश पत्र भी बरामद हुए. एसटीएफ अधिकारियों का दावा है कि शहर के आधा दर्जन से अधिक स्कूलों में साल्वर गैंग के सदस्यों को बैठाया जाना था. इसके लिए बाकायदा प्रति व्यक्ति दो लाख रुपए वसूल भी किए गए थे. सिविल लाइंस पुलिस और एसटीएफ के अधिकारी पकड़े गए साल्वर गैंग के सरगना से पूछताछ कर रहे हैं. जल्द ही गैंग में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें