दिनेश शर्मा बोले- पहले परीक्षा केंद्र बिकते थे, A की जगह B देता था एग्जाम

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Aug 2021, 12:20 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में यूपी के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रदेश कि शिक्षा व्यवस्था के कई मुद्दों को लेकर बयान दिए. इस मौके पर दिनेश शर्मा ने कहा कि पहले बोर्ड परीक्षा केंद्रों की नीलामी होती थी A की जगह B परीक्षा देता था.
यूपी के माध्यमिक शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ और उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार के मिशन रोजगार के तहत लखनऊ के लोकभवन में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गुरुवार को लोकसेवा आयोग द्वारा चयनित सहायक अध्यापकों व प्रवक्ताओं को नियुक्ति पत्र वितरित करेंगे. इस मौके पर डिप्टी CM दिनेश शर्मा, सतीश द्विवेदी मौजूद हैं. वहीं उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने इस मौके पर प्रदेश कि शिक्षा व्यवस्था को लेकर कई बयान दिए हैं. दिनेश शर्मा ने यूपी की शिक्षा व्यव्सथा को लेकर कहा कि पहले बोर्ड परीक्षा केंद्रों की नीलामी होती थी. A की जगह B परीक्षा देता था, बाहर से लोग आते थे लेकिन हमने केंद्रों को ऑनलाइन निर्धारण किया है.

इसके साथ ही दिनेश शर्मा ने कहा कि परीक्षा के लिए हमने सीसीटीवी लगवाया और स्टेटिक मजिस्ट्रेट नकल माफियाओं को पकड़ने और स्टेट कण्ट्रोल रूम बनाने का कार्य किया है. आज प्रदेश में नकलविहीन परीक्षाएं होती हैं और प्रदेश में पाठ्यक्रम 1947 से वही चल रहा था लेकिन हमने Ncert का पाठ्यक्रम लागू किया. इसके साथ ही हमारा प्रमाणपत्र व अंकपत्र को ऑनलाइन देने की व्यवस्था बनाई है.

CM योगी आदित्यनाथ की घोषणा दिसंबर तक 50 हजार युवाओं को मिलेगी सरकारी नौकरी

इसके साथ ही डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने प्रदेश के छात्रों को अच्छे गुरु बनने के मंत्र दिए. दिनेश शर्मा ने कहा कक्षाएं मत छोड़िए और बगैर अध्ययन किये कक्षा में न जाएं, आपमें पढ़ने की भूख होनी चाहिए. टीचर को कभी छात्र नही भुलाता है विद्यार्थी हमेशा उस टीचर का सम्मान करता है जो पूरे मन से पढ़ाते हैं. इसके साथ ही दिनेश शर्मा ने कहा है कि आपकी तुलना अन्य लोगो से होगी तो आप गर्व से कहिएगा की योगी जी के काल के अध्यापक हैं, जिसमें सोर्स सिफारिश नहीं चलती थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें