कार पर लिखी जाति तो गाड़ी नहीं होगी जब्त, भरना होगा बार-बार चालान, जानें कितना

Smart News Team, Last updated: Tue, 29th Dec 2020, 12:35 PM IST
  • यूपी परिवहन विभाग के आदेश के बाद प्रदेश में गाड़ी पर अगर जाति लिखकर सड़क पर उतर रहे हैं तो मोटा चालान भरना पड़ सकता है. आपकी गाड़ी को जब्त तो नहीं किया जाएगा लेकिन हर बार जुर्माना बढ़ाकर लगेगा.
गाड़ी पर लिखी जाति तो भरना होगा मोटा जुर्माना.

लखनऊ. परिवहन विभाग के आदेश अनुसार यूपी में अगर आपकी गाड़ी या नंबर प्लेट पर जाति लिखी है तो आपको भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है. वहीं ये स्थिति साफ करनी जरूरी है कि गाड़ियों को पुलिस जब्त नहीं कर सकती है. सिर्फ वह आपकी कार या अन्य वाहन का चालान काट सकते हैं. 

पहली बार अगर वाहन पर जाति या अन्य नाम के कारण जुर्माना लगाया जाता है तो गाड़ी मालिक को 500 रुपए भरने होंगे और वहीं दूसरी बार चालान होता है तो 1500 रुपए वसूल किए जाएंगे. इसी के साथ ट्रेफिक पुलिस के अफसर को चालान रिपोर्ट में मोटर वाहन अधिनियम का उल्लेख भी करना होगा.

लखनऊ की संभागीय परिवहन अधिकारी प्रवर्तन विदिशा सिंह ने बताया कि मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत ड्राइविंग लाइसेंस नहीं होने पर, वाहन का रजिस्ट्रेशन ना होने पर, अनफिट वाहन या परमिट नहीं होने पर ही गाड़ियों को जब्त किया जा सकता है. इसी के साथ जुर्माना अगर मालिक द्वारा चुका दिया जाता है तो गाड़ी वापस लौटा दी जाती है.

12 साल पहले लापता बेटा बनकर घर में घुसा, दंपति को लगाया लाखों का चूना, अरेस्ट

मोटर वाहन अधिनियम की धारा 177 में सिर्फ चालान की छूट दी गई है. इस धारा में किस वजह से चालान किया जा रहा उसका उल्लेख नहीं है. ट्रेफिक पुलिस को परिवहन विभाग की अनुमति के बिना वाले वाहनों जिस पर जाति या अन्य कुछ लिखे होने पर सिर्फ चालान करने का अधिकार है.

CM योगी का निर्देश, आरोग्य मेले के आयोजन के लिए सभी तैयारियां की जाएं

कई वाहन मालिक नंबर प्लेट पर इस तरह से अंक लिखवाते थे जो किसी नाम और जाति की झलक दिखाता था. कई लग्जरी और समाज में रसूख रखने वाले लोग सरकारी नियमों की धज्जियां उड़ा रहे थे जिनपर परिवहन विभाग और ट्रेफिक पुलिस सख्ती नहीं करती है. 

यूपी में न्यू ईयर 2021 की पार्टी करने से पहले जान लें योगी सरकार के नियम वरना... 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें