यूपी के उद्यमियों को मिलेगी राहत, योगी सरकार देगी कैपिटल सब्सिडी

Smart News Team, Last updated: Mon, 14th Jun 2021, 10:14 AM IST
  • उत्तर प्रदेश की योगी सरकार उद्यमियों को अब एसजीएसटी प्रतिपूर्ति की जगह कैपिटल सब्सिडी देने की तैयारी में है. भौगौलिक पिछड़ेपन वाले क्षेत्र के आधार पर निवेश के लिए कैपिटल सब्सिडी मिलेगी. 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

लखनऊ. यूपी की योगी सरकार उद्यमियों को बड़ी राहत देनी की तैयारी में है. राज्य सरकार उन्हें अब एसजीएसटी प्रतिपूर्ति की जगह कैपिटल सब्सिडी देने की तैयारी में जुटी है. जानकारी के अनुसार भौगौलिक पिछड़ेपन वाले क्षेत्र के आधार पर निवेश के लिए कैपिटल सब्सिडी की दर तय की जाएगी. इससे निवेशकों को एसजीएसटी प्रतिपूर्ति की जटिल प्रक्रिया से राहत मिल सकेगी. औद्दोगिक विकास विभाग ने इसे लेकर प्रस्ताव तैयार कर लिया है. जल्द ही यह कैबिनेट से पास हो जाएगा.

 

वर्तमान में औद्दोगिक निवेश नीति 2012 और 2017 के तहत निवेश परियोजनाओं पर एसजीटी (राज्य जीएसटी) प्रतिपूर्ति के कई मामले लंबित हैं. इसके चलते जीएसीटी प्रतिपूर्ति की गणना का कार्य जटिल प्रक्रिया बन गया है. इस समस्या को देखते हुए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में इसके लिए एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर बनाया गया है, लेकिन इससे भी इसका हल नहीं निकल पाया.

खुशखबरी: प्रमाणपत्र है तो डीएल के लिए आरटीओ में आकर टेस्ट देने की जरूरत नहीं

उत्पादनकर्ता के राज्य में उनके डिस्ट्रीब्यूटर द्वारा आवेदक के उत्पादित माल व बिक्री हुए माल की अंतरप्रांतीय आपूर्ति की स्थिति में कितना एसजीएसटी देय होगा? इसकी गणना में कई तरह की व्याख्या होने लगी. इसके चलते जीएसटी प्रतिपूर्ति की गणना जटिल प्रक्रिया बनती गई है. अब इस जटिलता से राज्य सरकार ने राहत देने की तैयारी कर ली है.

लखनऊ: जंगल में मिला युवती का चाकू से गोदा शव, रेप की आशंका

लघु, मध्य व वृहद औद्दोगिक इकाइयों को यह सुविधा 20 प्रतिशत बेसिक कैपिटल सब्सिडी गुणे रीजनल फैक्टर के आधार पर दी जाएगी. बताया जा रहा है कि रीजनल फैक्टर के लिए अलग से मानक तैयार किए जाएंगे. राज्य सरकार की तरफ से राहत की अधिकतम सीमा 400 करोड़ रुपए होगी. यह सुविधा सात साल तक दी जाएगी.

बुंदेलखंड और पूर्वांचल में 1230 करोड़, गाजियाबाद और गौतमबुध्दनगर में 4530 करोड़ रुपये का निवेश करने वाले निवेशकों को 400 करोड़ रुपये सीमा तक कैपिटल सब्सिडी की सुविधा मिल सकती है. वहीं, मध्यांचल में 1830 करोड़ और पश्चिमी यूपी में 3700 करोड़ रुपये का निवेश करने पर यह सुविधा मिलेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें