हड़ताल से पूर्वांचल बिजली निजीकरण रोकने पर मंत्री माने,चेयरमैन नहीं, आंदोलन जारी

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 11:21 PM IST
  • पूर्वांचल निगम की बिजली के निजीकरण को रोकने को लेकर ऊर्जा मंत्री के साथ बातचीत विफल साबित हुई. उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा तो निजीकरण के समझौते पर मान गए लेकिन सीएमडी अरविंद कुमार ने हस्ताक्षर नहीं किए. 
हड़ताल से पूर्वांचल बिजली निजीकरण रोकने पर मंत्री माने पर चेयरमैन नहीं, आंदोलन जारी

लखनऊ. बिजलीकर्मियों की हड़ताल के बाद पूर्वांचल निगम की बिजली के निजीकरण को रोकने के लिए यूपी सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा तो मान गए लेकिन अंतिम समय पर अपर मुख्य सचिव ऊर्जा सीएमडी यूपीपीसीएल अरविंद कुमार के समझौते पर हस्ताक्षर नहीं करने के बाद बातचीत विफल हो गई. ऐसे में बिजली कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार जारी रहेगा. बिजली कर्मचारी नेताओं ने कहा कि उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा के समझौते पर सहमति के बाद सीएमडी अरविंद कुमार ने धोखा दिया है.

सीएमडी अरविंद कुमार ने कहा है कि आज संघर्ष समिति के साथ लंबी वार्ता हुई है. अभी वार्ता का क्रम जारी रहेगा. वार्ता में शामिल संघर्ष समिति के पदाधिकारियों से कहा गया है कि यह सुनिश्चित करें कि कहीं विद्युत आपूर्ति बाधित ना हो.

लखनऊ में CM कंट्रोल रूम, डिप्टी सीएम समेत कई मंत्रियों की बिजली ठप, हंगामा

उत्तर प्रदेश के विद्युत कर्मचारी संगठन संयुक्त संघर्ष समिति संयोजक शैलेंद्र दुबे ने कहा कि विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की पॉवर कार्पोरेशन प्रबंधन और ऊर्जा मंत्री से हुई वार्ता बेनतीजा रही. बिजलीकर्मियों का कार्य बहिष्कार आंदोलन जारी रहेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें