यूपी में आठवीं तक के बच्चों को भत्ता और राशन देगी योगी सरकार, ये है प्लान

Smart News Team, Last updated: Tue, 18th May 2021, 8:52 PM IST
  • लेकिन अब योगी सरकार ने फैसला किया है की प्राइमरी स्कूलों के बच्चों का बकाया राशन उन तक अविलंब पहुंचाया जाए. जिसमें विद्यार्थियों को मिड मील भत्ता और अनाज मिलेगा. उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में अभिभावकों को अनाज के लिए प्राधिकार पत्र सौंपने और इस प्रक्रिया को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं.
मिड-डे मील खाते विद्यार्थी (फाइल फ़ोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए योगी आदित्यनाथ की सरकार ने पिछले साल के शुरुआती महीनों में ही स्कुलों को आंशिक रूप से बंद करना शुरू कर दिया था. जिसकी वजह से सरकार द्वारा संचालित प्राइमरी स्कूलों में बनने वाली मिड-डे मील योजना भी प्रभावित हुई. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बीते साल के तीसरी तिमाही तक तो छात्रों को मिड डे मील उनके यहां के सरकारी राशन दुकानों या स्कूलों तक पहुंचाया लेकिन पिछले 6 महीने से यह संभव नहीं हो परवाह है, क्योंकि एक तो प्रदेश में पंचायत चुनाव हो रहें थे तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना कर्फ्यू भी जारी है. लेकिन यूपी की योगी सरकार ने बच्चों का ख्याल रखते हुए उनके बकाया राशन के वितरण का निर्णय लिया है.

लेकिन अब योगी सरकार ने फैसला किया है की प्राइमरी स्कूलों के बच्चों का बकाया राशन उन तक अविलंब पहुंचाया जाए. जिसमें विद्यार्थियों को मिड मील भत्ता और अनाज मिलेगा. उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में अभिभावकों को अनाज के लिए प्राधिकार पत्र सौंपने और इस प्रक्रिया को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं. मार्च के आखिरी हफ्ते में सितम्बर 2020 से फरवरी 2021 तक के मिड डे मील भत्ता का आदेश जारी किया गया था. मिड डे मील के राशन को प्राप्त करने के लिए विद्यार्थियों के अभिभावकों को प्राधिकार पत्र लेकर कोटेदार के यहां जाना होगा, जिससे उनके बच्चे को आवंटित अनाज उन्हें मिल जाएगा.

प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीजों से ओवरचार्जिंग पर हो कड़ी कार्रवाई: CM योगी

कक्षा छह से आठ तक के विद्यार्थियों के लिए 923 रुपये और कक्षा एक से पांच तक के विद्यार्थियों को 685 रुपये दिया जाएगा. जूनियर स्कूल के बच्चों को 124 दिन (एक सितम्बर, 2020 से नौ फरवरी, 2021 तक) और प्राइमरी स्कूल के विद्यार्थियों को 138 दिन का भत्ता (एक सितम्बर 2020 से 28 फरवरी) दिया जा रहा है. इससे पहले सरकार मार्च से 31 अगस्त, 2020 तक दो चरणों में 76 व 49 दिनों का मिड डे मील भत्ता व अनाज दो चरणों में दे चुकी है. यूपी के योगी सरकार की कोशिश के को बकाया राशन भी विद्यार्थियों के घर पहुंचाया जाए क्योंकि पहले ही बहुत देर हो चुकी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें