UPSSSC 2021: प्रारंभिक योग्यता परीक्षा का पाठ्यक्रम निर्धारित, जाने क्या-क्या होगा

Smart News Team, Last updated: 05/02/2021 12:17 PM IST
  • अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक साचिव मुकुल सिंघल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई बैठक में इस बिंदु पर आम सहमति बन गई है. अब जल्द है शासनादेश जारी कर परीक्षा पाठ्यक्रम जारी कर दिया जाएगा. पाठ्यक्रम के अनुसार प्रारंभिक योग्यता परीक्षा दो घंटे की होगी और इसमें कुल 100 प्रश्न पूछे जाएंगे.
उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग.

लखनऊ : उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ( UPSSSC ) द्वारा कराई जाने वाली प्रारंभिक योग्यता परीक्षा का पाठ्यक्रम निर्धारित कर लिया गया है. अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक साचिव मुकुल सिंघल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई बैठक में इस बिंदु पर आम सहमति बन गई है. अब जल्द है शासनादेश जारी कर परीक्षा पाठ्यक्रम जारी कर दिया जाएगा. पाठ्यक्रम के अनुसार प्रारंभिक योग्यता परीक्षा दो घंटे की होगी और इसमें कुल 100 प्रश्न पूछे जाएंगे.

सवाल का गलत उत्तर देने पर निगेटिव मार्किंग की व्यवस्था होगी. एक सवाल गलत होने पर 1/4 अंक काटा जायेगा. इसमें कक्षा आठ के स्तर का भारतीय इतिहास, भारतीय आंदोलन, भूगोल, भारतीय अर्थव्यवस्था, भारतीय संविधान, लोक प्रशासन, सामान्य विज्ञान के जुड़े सवाल पूछे जाएंगे. इसके साथ ही कक्षा आठ के स्तर की प्रारंभिक अंकगणित, तर्क एवं तर्कशक्ति, सामान्य हिंदी, सामायिकी, सामान्य जागरूकता, गद्य विश्लेषण एवं विवेचन, ग्राफ का विवेचन एवं विश्लेषण संबंधी सवाल पूछे जाएंगे.

यूपी बोर्ड परीक्षा साल में एक बार करने पर होगा विचार, नई शिक्षा नीति पर हुई बैठक

इसमें छह सवाल 10-10 अंक के होंगे और बाकी पांच-पांच अंक के होंगे. अधीनस्थ सेवा चयन आयोग सरकार से मंजूरी मिलने के बाद पाठ्यक्रम को ऑनलाइन करेगा, जिससे समूह ‘ग’ की भर्ती में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को इसकी जानकारी मिल सके. प्रारंभिक योग्यता परीक्षा परिणाम परसेंटाइल के आधार पर जारी किया जाएगा. इसके आधार पर भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों को शामिल होने का मौका मिलेगा.

अब यूपी में रेड़ी वालों से भी लिया जाएगा यूजर चार्ज, कैबिनेट की बैठक में इसपर होगा निर्णय

वकील पोलोमी शुक्ला इंडिया 30 अंडर 30 लिस्ट में शामिल, अनाथों के लिए किए काम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें