UP Election: 29 अक्टूबर को लखनऊ आएंगे अमित शाह, BJP सदस्यता अभियान की करेंगे शुरुआत

Sumit Rajak, Last updated: Sun, 24th Oct 2021, 8:40 PM IST
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लखनऊ में भाजपा के विशेष सदस्यता अभियान की शुरुआत करेंगे. इसके लिए अमित शाह 29 अक्टूबर को लखनऊ पहुंचेंगे. इस दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, सीएम योगी और पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक भी करेंगे. आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा करेंगे.
फाइल फोटो

लखनऊ. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह  लखनऊ में भाजपा के विशेष सदस्यता अभियान की शुरुआत करेंगे. गृहमंत्री अमित शाह 29 अक्टूबर को लखनऊ पहुंचेंगे. लखनऊ पहुंच कर विशेष सदस्यता अभियान की शुरुआत करेगें. लखनऊ में बैठकों का दौर सुबह से शाम तक चलेगा. इस दौरान  गृहमंत्री अमित शाह, सीएम योगी आदित्यनाथ का साथ बैठक करेंगे. साथ हीं संगठन के पदाधिकारियों के साथ अलग-अलग बैठक भी करेंगें. आगामी विधान सभा चुनाव की तैयारियों को लेकर  समीक्षा की जाएगी. बताया जा रहा है कि इस बैठक में महत्वपूर्ण बिन्दु पर चर्चा भी होगी और कई महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए जाएगें. जिसको बीजेपी अपनी आगामी विधान सभा चुनावी कार्यक्रमों के जरिए लागू करने की योजना बना रहे है.

आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर यूपी बीजेपी ने तैयारियां शुरु कर दी है. बीजेपी का लक्ष्य डेढ़ करोड़ से अधिक लोगों को भाजपा सदस्य के रुप में जोड़ना है. बीजेपी सदस्य के रुप में फस्ट टाइम वोटर, प्रबुद्ध वर्ग, अल्पसंख्यकों और महिलाओं सहित सभी लोगों पर फोकस रहेगा. इसके साथ हीं सरकारी योजनाओं के लाभार्थी पर भी ध्यान रहेगा. इस अभियान को बूथ स्तर पर चलाया जाएगा. इसके तहत हर बूथ पर 100 लोगों  को जोड़ने का लक्ष्य रखा जा रहा है. इसके लिए भाजपा पार्टी पदाधिकारियों को सभी लोगो को सदस्य के रुप में जोड़ने का लक्ष्य दिया है. प्रत्येक सदस्य को कम से कम 9 नए सदस्य बनाने का लक्ष्य भी दिया जाएंगे.  कमजोर बूथों पर सबसे अधिक  सदस्य बनाए जाएंगे.

लखीमपुर खीरी हिंसा: जेल में बंद आशीष मिश्रा को हुआ डेंगू, अस्पताल में भर्ती

भाजपा द्वारा दूसरे दलों के कोर वोट में सेंध लगाने की भी कोशिश रहेंगी. मिस्ड कॉल और फॉर्म भरवाकर  सभी लोगों के सदस्यता दिलाई जाएगी.  इसके बाद पार्टी पदाधिकारी नए कार्यकर्ताओं से संपर्क करेंगे. बताया जा रहा है कि  2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को सरकारी योजनाओं का लाभ पाने वाले लोगों ने वोट दिया था. साथ हीं वे लोग बीजपी का वोटर भी बने रहें. इन लोगो से संपर्क कर सभी लोगों सदस्य बनाया जाए. भारतीय जनता पार्टी की रणनीति बनाया है कि सदस्यता अभियान में बड़ी संख्या में लोगों को भाजपा सदस्य में जोड़कर विपक्षी पार्टी पर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाया जाये. 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी की यही रणनीति रही.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें