स्वतंत्र देव बोले- अखिलेश जी, UP में गुंडाराज साफ करने में BJP वैक्सीन कारगर रही

Smart News Team, Last updated: Sat, 2nd Jan 2021, 6:56 PM IST
  • सपा अध्यक्ष अखिलेश ने कहा कि मैं बीजेपी की वैक्सीन पर कैसे भरोसा कर सकता हूं. इस पर यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि भ्रष्टाचार और गुंडाराज को खत्म करने के लिए बीजेपी की वैक्सीन कारगर साबित हुई है, आप कौन-सी वैक्सीन की बात कर रहे.
बीजेपी यूपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान पर पलटवार किया.

लखनऊ. समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीजेपी की कोरोना वैक्सीन न लगवाने के बयान पर बीजेपी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पलटवार करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार और गुंडाराज को खत्म करने के लिए बीजेपी की वैक्सीन कारगर साबित हुई, आप कौन-सी वैक्सीन की बात कर रहे. यूपी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश यादव को इस बयान के लिए माफी मांगने की बात कही है.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि फिलहाल मैं टीका नहीं लगवा रहा हूं. मैं बीजेपी की वैक्सीन पर भरोसा कैसे कर सकता हूं. सपा अध्यक्ष ने कहा कि जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को फ्री टीका लगेगा. हम बीजेपी की वैक्सीन नहीं लगवा सकते हैं.

बीजेपी की कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाउंगा: अखिलेश यादव

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के इस बयान पर यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार और गुण्डाराज को समाप्त करने के लिए भाजपा की वैक्सीन कारगर साबित हुई है. उन्होंने अखिलेश यादव से पूछा कि आप कौन-सी वैक्सीन की बात कर रहे हैं? वहीं यूपी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट करते हुए कहा कि अखिलेश यादव को वैक्सीन पर भरोसा नहीं है और उत्तर प्रदेश वासियों को अखिलेश यादव पर भरोसा नहीं है. अखिलेश जी का वैक्सीन पर सवाल उठाना हमारे देश के चिकित्सकों और वैज्ञानिकों का अपमान है. जिसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए.

अखिलेश को कारोना वैक्सीन पर और UP के लोगों को उन पर भरोसा नहीं: केशव प्रसाद मौर्य

आपको बता दें कि केन्द्र सरकार के देशव्यापी कोरोना वैक्सीन ड्राई रन अभियान के तहत शनिवार को प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 6 जगहों पर ड्राई रन किया गया. इस दौरान डीएम अभिषेक प्रकाश ने ड्राई रन केन्द्रों पर जाकर व्यवस्था का जायजा लिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें