सपा का बढ़ता कारवां: अखिलेश को मिला इमरान मसूद का साथ, रागिब अंजुम को बड़ी जिम्मेदारी

Sumit Rajak, Last updated: Fri, 21st Jan 2022, 8:40 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के कद्दावर नेता इमरान मसूद भरपुर प्रयत्न के बाद अब सपा के साथ आ गए हैं. लखनऊ में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से गुरुवार को उन्होंने मुलाकात की.साथ ही सपा के लिए काम करने की इच्छा जताई. बताया जा रहा कि सपा प्रमुख ने उन्हें रामपुर मनिहारन सीट से टिकट देने का वादा किया है.वही इस मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी ने रागिब अंजुम को पार्टी का सहारनपुर का जिलाध्यक्ष बना दिया.
फाइल फोटो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के कद्दावर नेता इमरान मसूद भरपुर प्रयत्न के बाद अब सपा के साथ आ गए हैं. लखनऊ में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से गुरुवार को उन्होंने मुलाकात की.साथ ही सपा के लिए काम करने की इच्छा जताई. बताया जा रहा कि सपा प्रमुख ने उन्हें रामपुर मनिहारन सीट से टिकट देने का वादा किया है.वही इस मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी ने रागिब अंजुम को पार्टी का सहारनपुर का जिलाध्यक्ष बना दिया. रागिब अंजुम पूर्व विधायक इमरान मसूद के करीबी माने जाते हैं. इसके लिए पार्टी प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने उनकी नियुक्ति का पत्र देर शाम जारी कर दिया.

बता दें कि पिछले दिनों इमरान मसूद अखिलेश यादव से मुलाकात किए थे.हालांकि बात बीच कहीं नहां बनी थी.फिर इसके बाद बसपा में जाने की खूब चर्चा होने लगी. लेकिन अब इस मामले का पटाक्षेप हो गया. सपा की ओर से अब उनकी पसंद की सीट देने की तैयारी है. बता दें कि समाजवादी पार्टी ने इमरान की अखिलेश यादव के साथ तस्वीर भी ट्वीट की है. साथ में लिखा है कि बढ़ता कारवां.वही कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ नेता इमरान मसूद ने अपने साथियों के साथ समाजवादी पार्टी को समर्थन दिया. हालांकि इससे पहले इमरान मसूद के अगले राजनीतिक कदम पर नजरें टिकी हुई थीं. कांग्रेस छोड़ने के बाद सपा से टिकट का आश्वासन नहीं मिलने से कई तरह की चर्चाएं शुरू होने लगी थीं. इसको लेकर इमरान के बसपा का दामन थामने की बातें भी होने लगी थी.

यूपी: सपा चीफ अखिलेश यादव मैनपुरी की करहल सीट से लड़ेंगे विधानसभा चुनाव

सोशल मीडिया पर इमरान का एक वीडियो भी तेजी से वायरल हुआ. इस वीडियो में वह मुसलमानों को सुधर जाने की नसीहत देते हुए कह रहे हैं कि 'मुझे कुत्ता बना दिया. वीडियो में इमरान अपने समर्थकों से कह रहे हैं कि, 'मुसलमानों एक हो जाओ, तुम्हारी वजह से मुझे पैर पकड़ने पड़े, कुत्ता बना दिया, तुम एक हो जाओ तो वह मेरे पैर पकड़कर खुद टिकट देंगे. 

इमरान मसूद  11 जनवरी को कांग्रेस छोड़ सपा में शामिल हो गए थे, लेकिन टिकट वितरण में प्रमुखता नहीं मिलने से परेशान थे. अखिलेश यादव के इस रवैये से नाराज होकर इमरान मसूद से जब इस वीडियो के बारे में पूछा गया तो उन्होंने वीडियो बनाने वाले पर नाराजगी जताते हुए कहा कि उसे ऐसा नहीं करना चाहिए था, हालांकि हमने कुछ गलत नहीं कहा है. जबकि मैं अपने समर्थकों से सारा बातें करता हूं. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें