UP की बेटियों को CM योगी का होली गिफ्ट,इन हॉस्टल स्कूलों में 12वीं तक पढ़ाई फ्री

Smart News Team, Last updated: Sun, 28th Mar 2021, 12:56 PM IST
  • उत्तर प्रदेश सरकार के कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय अब तक लड़कियों को आठवीं तक मुफ्त शिक्षा देते थे. वहीं योगी सरकार ने बड़ी घोषणा करते हुए इन स्कूलों को 12वीं तक करने का फैसला लिया है. जिसके बाद गरीब परिवार की बेटियां फ्री में पूरी एजुकेशन ले पाएंगी.
यूपी की बेटियों के लिए खुशखबरी, अब प्राप्त कर सकेंगी 12वीं तक निःशुल्क शिक्षा

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के गरीब परिवार की बेटियों को आठवीं के बाद अपनी एजुकेशन की चिंता करने की जरुरत नहीं है. उन्हें अपनी पढ़ाई बीच में नहीं छोड़नी पड़ेगी. योगी सरकार ने होली पर यूपी की बेटियों को एक बड़ा तोहफा दिया है जिसमें उन्होनें राज्य सरकार के कस्तूरबा आवासीय विद्यालयों को 12वीं तक करने का फैसला लिया है. 

कस्तूरबा आवासीय विद्यालय पहले आठवीं तक होते थे जिन्हें अब 12वीं तक किया जा रहा है. इन आवासीय स्कूलों को यूपी के उन ब्लॉकों में भी खोला जा रहा है जहां तक अभी इन्हें शुरू नहीं किया गया था. केजीबीवी के सभी स्कूलों के 12वीं तक हो जाने के बाद से यूपी की 80 हजार लड़कियों को मुफ्त शिक्षा का लाभ मिल पाएगा.

जानकारी के अनुसार यूपी में कुल 746 केजीबीवी विद्यालय है. जिसमें मध्यम और गरीब वर्ग की बेटियां शिक्षा ग्रहण करती हैं. वहीं इन आवासीय स्कूलों को प्रदेश में उन स्थानों पर खोला गया है जो बेहद पिछड़े नगरीय क्षेत्र और ब्लाक हैं. इन विद्यालयों में अभी तक लड़कियों को कक्षा 6 से 8 तक मुफ्त शिक्षा दी जाती है जो आर्थिक रूप से सक्षम नहीं हैं. प्रदेश की उन बच्चियों के परिजन जो आर्थिक तौर पर इतने मजबूत नहीं हैं कि उन्हें बाहर पढ़ने के लिए भेज सकें. इन्हीं बच्चियों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ने यह फैसला लिया है.

प्राइमरी व जूनियर स्कूल के बच्चों का मिड-डे-मील भत्ता जारी, जल्द मिलेगी धनराशि

यूपी सरकार ने सभी केजीबीवी स्कूलों को 12वीं तक करने के आदेश दे दिया है. वहीं इससे पहले 2019-20 में 350 स्कूलों को बारहवीं तक किया गया था. जिसमे से 57 में 2020-21 के सत्र चलाने की अनुमति भी दी गई थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण काम शुरू नहीं हो पाया. वहीं अब बचे हुए बाकि केजीबीवी के विद्यालयों को भी अगले सत्र से उच्चीकृत कर दिया जाएगा. साथ ही अधिकतर में लड़कियों को रुकने के लिए हॉस्टल भी बनाए जाएंगे.

UP पंचायत चुनाव: जिला पंचायत की सभी सीटों पर इलेक्शन लड़ेगी AAP: संजय सिंह

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें