CM योगी और धामी ने सुलझाया यूपी उत्तराखंड का 20 हजार करोड़ का 21 साल पुराना विवाद

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 18th Nov 2021, 4:18 PM IST
  • राजधानी लखनऊ में गुरुवार को उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से उनके आवास पर मुलाकात की. इस मौके पर दोनों ने काफी समय से लंबित दोनों राज्यों के बीच चल रहे कई विवादों को आपसी सहमति बनाते हुए सुलझा लिया है. अब संपत्ति समेत अन्य मुद्दों पर जल्द दोनों सरकारें फैसला लेंगी.
CM योगी और धामी की बैठक, निपटा 21 साल का विवाद, दोनों राज्यों में हुए ये समझौते

लखनऊ. उत्तराखंड राज्य बनने के बाद से लंबित परिसंपत्ति मामले में गुरुवार को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड राज्य में सहमति बन पाई. इस मामले को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लखनऊ में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की. इस दौरान दोनों राज्यों के मुखिया व राज्य के अधिकारियों ने बैठकर करके मामलों के निपटारे का फैसला लिया.

दोनों राज्य वापस लेंगे सारे मामले

बैठक के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि कोर्ट में चल रहे सारे मामलों को यूपी और उत्तराखंड वापस लेंगे. साथ ही आपसी सहमति से संपत्तियों का ज्वाइंट सर्वे होगा. इस दौरान सीएम धामी ने सीएम योगी का आभार जताते हुए यूपी और उत्तराखंड को बड़ा और छोटा भाई बताया.

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर मेगा शो के दौरान गरजे अखिलेश, कहा- BJP नाम बदलने वाली सरकार

20 हजार करोड़ की संपत्ति का विवाद सुलझा

सीएम धामी ने बताया कि पिछले 21 साल से ये विवाद चला आ रहा था. जिसकी वजह से 20 हजार करोड़ की संपत्ति विवादित थी, लेकिन अब सीएम योगी की मंजूरी के बाद ये विवाद सुलझ जाएगा. साथ ही हरिद्वार में स्थित अलकनंदा होटल व किच्छा बस अड्डाॉ उत्तराखंड को दे दिया जाएगा.

5700 हेक्टेयर भूमि पर होगा ज्वाइंट सर्वे

दोनों राज्यों के बीच जमीन विवाद को लेकर सीएम धामी ने बताया कि 5700 हेक्टेयर भूमि पर दोनों राज्यों का ज्वाइंट सर्वे होगा. जिसके बाद जो जमीन यूपी के काम की होगी, वो उसे मिल जाएगी बाकी उत्तराखंड को मिलेगी. साथ ही यूपी सरकार वनवास किच्छा बैराज का भी पुननिर्माण करवाएगी.

UP में घोषणा पत्र के लिए BJP ने जनता से मांगी राय, आप भी ऐसे दें सकते हैं सुझाव

शेष बचे मामलों में 15 दिन बाद होगा फैसला

इन मुद्दों के अलावा राज्यों के बीच जो मुद्दे बचे हुए हैं उनको लेकर यूपी सरकार ने 15 दिन का समय मांगा है. जल्द ही उनपर भी फैसला हो जाएगा. सीएम धामी ने कहा कि मेरा यूपी से पुराना रिश्ता है. योगी ने दिल खोलकर हमारी बातों को माना है. हमारा मकसद सभी का सम्मान और सभी का विकास है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें