PM मोदी ने व्हीकल स्क्रैप पॉलिसी को किया लॉन्च, कहा- आर्थिक विकास में मिलेगी मदद

Smart News Team, Last updated: Fri, 13th Aug 2021, 1:39 PM IST
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शुक्रवार को गुजरात इन्वेस्टर शिखर सम्मेलन में व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी को लॉन्च किया है. पीएम मोदी ने इस मौके पर कहा ये पॉलिसी नए भारत की मोबिलिटी को और ऑटो सेक्टर को नई पहचान देने वाली है. 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी को किया लॉन्च, फोटो क्रेडिट (पीएम मोदी ट्विटर)

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को गुजरात इन्वेस्टर समिट के अहमदाबाद में हुए कार्यक्रम में नेशनल ऑटोमॉबिल स्क्रैपिंग पॉलिसी को लॉन्च किया. पीएम मोदी ने स्क्रैपेज पॉलिसी की लॉन्च करते हुए इस कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया. इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा देश की अर्थव्यवस्था के लिए मॉबिलिटी बड़ा फैक्टर है और आर्थिक विकास में ये काफी मददगार साबित होगा. ये पॉलिसी नए भारत की मोबिलिटी को और ऑटो सेक्टर को नई पहचान देने वाली है. इसके साथ ही यह पॉलिसी अनफिट वाहनों को सड़कों से हटाने में भी अहम भूमिका निभाएगी.

वहीं पीएम मोदी ने कहा इस पॉलिसी से सामान्य परिवारों को हर प्रकार से बहुत लाभ होगा. सबसे पहला लाभ ये होगा कि पुरानी गाड़ी को स्क्रैप करने पर एक सर्टिफिकेट मिलेगा. ये सर्टिफिकेट जिसके पास होगा उसे नई गाड़ी की खरीद पर रजिस्ट्रेशन के लिए कोई पैसा नहीं देना होगा. इसके साथ ही उसे रोड टैक्स में भी कुछ छूट दी जाएगी. दूसरा लाभ ये होगा कि पुरानी गाड़ी की मैंटेनेंस कॉस्ट, रिपेयर कॉस्ट, फ्यूल इफिशिएंसी में भी बचत होगी.

PM मोदी ने अन्‍न योजना के लाभार्थियों से की बात, पूछा- योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं

इस पॉलिसी का तीसरा लाभ सीधा जीवन से जुड़ा है. पुरानी गाड़ियों, पुरानी टेक्नॉलॉजी के कारण रोड एक्सीडेंट का खतरा बहुत अधिक रहता है, जिससे मुक्ति मिलेगी. चौथा, इससे हमारे स्वास्थ्य प्रदूषण के कारण जो असर पड़ता है, उसमें कमी आएगी. नेशनल ऑटोमॉबिल स्क्रैपिंग पॉलिसी के कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी अहमदाबाद में ही मौजूद रहे. पीएम मोदी द्वारा लॉन्च की गई इस पॉलिसी को पहली बार केंद्रीय बजट 2021 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत किया गया था.

उज्जवला योजना 2.0: PM मोदी का ऐलान- अब गैस कनेक्शन के लिए एड्रेस प्रूफ जरूरी नहीं

बता दें पीएम मोदी द्वारा लॉन्च की गई नई स्क्रैप पॉलिसी के अनुसार अब 15 और 20 साल पुरानी गाड़ियों को कबाड़ कर दिया जाएगा. अगर किसी की कॉमर्शियल गाड़ी है तो उसके लिए 15 साल और निजी गाड़ी के लिए 20 साल का समय है. मतलब साफ है के ये समय पूरा करते ही आपकी गाड़ी कबाड़ हो जाएंगी. सरकार ने नई स्क्रैप पॉलिसी को लागू करते हुए तर्क दिया है कि इससे आर्थिक नुकसान कम होगा और सड़कों पर भी दुर्घटना कम होंगी. क्योंकि 15 से 20 साल पुराने वाहनों में सीट बेल्ट और एयर बैग काम नहीं करते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें