ब्लॉक प्रमुख चुनाव: कई जगह भिड़े सपा-BJP कार्यकर्ता, 14 जिलों में बवाल-फायरिंग

Smart News Team, Last updated: Thu, 8th Jul 2021, 10:56 PM IST
  • सीतापुर, फतेहपुर, बस्‍ती, गोरखपुर, देवरिया, श्रावस्‍ती, अंबेडकरनगर सहित कई जिलों से ऐसी खबरें आई हैं. लखीमपुर खीरी में तो एक महिला नेता से अभद्रता का मामला सामने आया है. इन घटनाओं में कई लोग घायल हुए हैं.
उत्तर प्रदेश के 14 जिलों से मारपीट, तोड़फोड़ और हिंसा की खबर है.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 825 ब्लाक प्रमुखों के चुनाव के लिए गुरुवार को नामांकन के दौरान कई जिलों में बवाल हुआ. बीजेपी- सपा व सहयोगी दलों के प्रत्याशी और उनके समर्थक आपस में भिड़ गए. साथ ही मारपीट, तोड़फोड़, नामांकन पत्र छीनकर फाड़े जाने और फायरिंग तक की घटनाएं हुई. सीतापुर, फतेहपुर, बस्‍ती, गोरखपुर, देवरिया, श्रावस्‍ती, अंबेडकरनगर सहित कई जिलों से ऐसी खबरें आई हैं. लखीमपुर खीरी में तो एक महिला नेता से अभद्रता का मामला सामने आया है. इन घटनाओं में कई लोग घायल हुए हैं. एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि करीब 14 स्थानों पर मारपीट, तोड़फोड़ और हल्की हिंसा हुई है. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई है.

मिली जानकारी के मुताबिक, सीतापुर में नामांकन करने जा रहे प्रत्‍याशी को पर्चा नहीं मिलने के आरोप में दो पक्ष आपस में भिड़ गए. इसके बाद फायरिंग हुई. इस घटना में तीन लोगों के घायल होने की खबर है. घायलों की हालत को देखते हुए डॉक्‍टरों ने लखनऊ के लिए रेफर कर दिया है. मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक, सीतापुर में पूरी वारदात पुलिस के सामने ही हुई. मारपीट के दौरान कमलापुर ब्‍लॉक में भगदड़ की स्थिति आ गई. एक बीडीसी सदस्‍य के गुस्‍साए समर्थकों ने एनएच-24 पर जाम लगा दिया.

UP में ब्लॉक प्रमुख नामांकन में मारपीट, हिंसा पर ADG बोले- पहले से कम हुआ है

लखीमपुरखीरी में ब्‍लॉक प्रमुख नामांकन के दौरान आरोप है कि सपा प्रत्याशी रीतू सिंह का नामांकन बीजेपी समर्थकों ने नहीं होने दिया. ब्‍लॉक में दाखिल हो रहीं प्रत्याशी की प्रस्तावक अनीता को कुछ लोगों ने सड़क पर घेर लिया. उनके साथ मारपीट की गई. इसके बाद सपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष क्रांति कुमार सिंह को गेट से खींच लिया गया. उनको बंधक बनाने की कोशिश का आरोप भी सपा द्वारा लगाया जा रहा है. वहां उन्होंने आरओ के सामने पर्चा भरकर दिया. सपा का आरोप है कि अंदर घुसे बीजेपी समर्थकों ने आरओ के सामने से पर्चा छीनकर फाड़ दिया और प्रत्याशी को भी पीटा. यह सब पुलिस के सामने हुआ.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें