लखनऊ: कठौता में बचा केवल 6 दिन का पानी, इंदिरानगर-गोमतीनगर में गहराया जल संकट

Smart News Team, Last updated: Sun, 6th Jun 2021, 7:55 AM IST
  • लखनऊ के कठौता झील में पानी को कमी होने के कारण इंदिरानगर और गोमतीनगर इलाकों में पानी की आपूर्ति पर संकट मंडराने लगा है. शारदा नहर की सफाई के बाद ही लखनऊ के लोगों को पानी की कमी से छुटकारा मिल पाएगा.
लखनऊ: कठौता में बचा केवल 6 दिन का पानी इंदिरानगर-गोमतीनगर में गहराया जल संकट

लखनऊ. लखनऊ के इंदिरानगर व गोमतीनगर में जल संकट गहराता जा रहा है. जिसके पीछे का कारण कठौता झील में पानी का कम होते जाना है. कठौता झील में इस समय केवल 6 दिन का पानी बचा है. जिसके कारण इन दोनों इलाकों में ट्यूबेल से पानी की आपूर्ति की जा रही है. इसके बारे में सिचांई विभाग ने बताया कि जब तक शारदा नहर में सफाई काम पूरा नहीं हो जाता तब तक ट्यूबेल से ही लोगों को पानी की आपूर्ति कि जाएगी. साथ ही यह भी बताया कि शारदा नहर से 12 जून के बाद ही पानी की आपूर्ति होने की आशंका है.

सिचांई विभाग के अनुसार कठौता झील में केवल 9 फुट पानी बचा है. जिसमें से इलाके में रोज आधा फुट पानी सप्लाई किया जाता है. जिसके कारण केवल दो घंटे ही लोगो को पानी की आपूर्ति की जा रही है. साथ में यह भी बताया कि झील में छ फुट नीचे पानी जाने से पर्याप्त मात्रा में सप्लाई नहीं हो पा रही है.

सरकारी नौकरी का झांसा देकर सिपाही ने 9 लाख हड़पे, धोखाधड़ी केस में FIR दर्ज

जिसके कारण  इंदिरानगर व गोमतीनगर के लोगों को दो से तीन घंटे ही पानी का सप्लाई किया जा रहा है. वहीं बात करे उचाई वाले इलाकों में तो वहां पर पानी तक नहीं पहुंच पा रहा है. जिसके कारण इस्माईलगंज प्रथम, द्वितीय, इंदिराप्रियदर्शिनी वार्ड के कई मोहल्लों, सी-ब्लाक, रवीन्द्रपल्ली इलाकों में पानी का संकट और गहरा गया है.

इस समस्या पर जलकल विभाग के सचिव राम कैलाश ने कहा कि आपूर्ति को सामान्य करने के लिए ट्यूबेल से पानी दिया जा रहा है. जिसके कारण दबाव थोड़ा कम हुआ है. उनका कहना है कि अभी तक कोई दिक्क्त देखने को नहीं मिली है. साथ ही बताया कि सिचांई विभाग से बात हुई है. कुछ कारणों से पानी छोड़ने का समय बढ़ाया गया है. शारदा नहर में पानी मिलते ही समस्या समाप्त हो जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें