बिना मेडिकल बोर्ड के कैदी पूर्व विधायक का चल रहा था इलाज, वीसी से हुई शिकायत

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Apr 2021, 11:34 AM IST
  • लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में 1 महीने से बिना मेडिकल बोर्ड के हमीरपुर के पूर्व विधायक अशोक कुमार सिंह चंदेल भर्ती थे. वह केजीएमयू में भर्ती होकर अपना इलाज करा रहे थे. पूर्व विधायक के विरोधी व इस मामले के वादी राजीव शुक्ला ने केजीएमयू वीसी से शिकायत की.
बिना मेडिकल बोर्ड के कैदी पूर्व विधायक का चल रहा था इलाज, वीसी से हुई शिकायत

लखनऊ। लखनऊ के केजीएमयू यानी किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में 1 महीने से बिना मेडिकल बोर्ड के हमीरपुर के पूर्व विधायक अशोक कुमार सिंह चंदेल भर्ती थे. वह केजीएमयू में भर्ती होकर अपना इलाज करा रहे थे. इस बात का खुलासा तब हुआ जब पूर्व विधायक के विरोधी व इस मामले के वादी राजीव शुक्ला ने केजीएमयू वीसी से शिकायत की. शिकायतकर्ता राजीव शुक्ला ने वीसी को मामले की जानकारी देते हुए अस्पताल के वीसी से दोषी डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है.

राजीव शुक्ला द्वारा शिकायत किए जाने के बाद शुक्रवार को अस्पताल प्रशासन ने आनन-फानन में कैदी मरीज को डिस्चार्ज कर दिया. इससे पहले भी लखनऊ की जिला जेल में बंद गैंगरेप का आरोपी पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति इसी अस्पताल में 1 साल से अधिक समय तक भर्ती रह चुका है लेकिन बीते साल इस मामले में हाईकोर्ट के हस्तक्षेप किए जाने पर केजीएमयू में से उसे जबरन छुट्टी कर के वापिस जेल भेज दिया गया था.

कोरोना का असर: अब लखनऊ के मंदिरों में घंटी नहीं बजा सकेंगे भक्त

मामले के बारे में जानकारी देते हुए शिकायतकर्ता राजीव शुक्ला ने बताया कि 5 मार्च को अशोक कुमार सिंह के सीने में दर्द की शिकायत पर उसे आगरा मेडिकल कॉलेज से केजीएमयू रेफर किया गया था. केजीएमयू के डॉक्टरों ने उन्हें भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया जबकि नियमता जेल में बंद कैदी जिनका कोर्ट में ट्रायल चल रहा हो, उन्हें भर्ती करने का निर्णय मेडिकल बोर्ड लेता है.

कानपुर में छेड़खानी के विरोध में किशोरी की पीटकर की हत्या, 15 लोगों पर केस दर्ज

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें