योगी सरकार की बड़ी तैयारी, इस क्षेत्र में 4 लाख नौकरी देने का रखा लक्ष्य

Smart News Team, Last updated: Sat, 7th Aug 2021, 10:18 AM IST
  • उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य के युवाओं को बड़ा गिफ्ट देने की तैयारी कर रहा है. दरअसल सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में 4 लाख से ज्यादा रोजगार देने का लक्ष्य रखा है.
योगी सरकार राज्य के युवाओं को बड़ी सौगात देने क तैयारी कर रही है. 

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य के युवाओं को बड़ी सौगात देने की तैयारी कर रही है. जानकारी के मुताबिक आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रानिक्स मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में रोजगार का सबसे बड़ा केंद्र बनने वाला है. इसके लिए योगी सरकार ने तैयारी तेज कर दी है. इलेक्ट्रानिक्स मैन्युफैक्चरिग नीति 2020 के तहत निवेश के प्रस्ताव मिलने के साथ ही सरकार ने व्यापार और रोजगार का नया प्लान बनाना शुरू कर दिया है.

बता दें कि योगी सरकार का लक्ष्य युवाओं के लिए 5 साल के भीतर इलेक्ट्रानिक्स मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में 4 लाख से अधिक रोजगार सृजन करने का है. योजना के तहत 5 सालों में 40000 करोड़ के निवेश का लक्ष्य रखा गया है. नई नीति के तहत कोविड 19 को देखते हुए चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्रदेश में ही निर्माण के लिए लखनऊ, उन्नाव, कानपुर जोन में मेडिकल इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण नीति 2020 के तहत नोएडा में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना भारत सरकार के सहयोग से की जाएगी.

कहते थे खून बहेगा, अयोध्या राम मंदिर का समाधान हुआ और एक मच्छर नहीं मरा: CM योगी

इसके साथ ही यूपी में यमुना एक्सप्रेस वे के पास स्थिति जेवर एयरपोर्ट के पास इलेक्ट्रॉनिक सिटी की स्थापना, बुंदेलखंड में रक्षा इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर योजना पर काम शुरू कर दिया है. मालूम हो कि उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण नीति 2017 के अंतर्गत 5 सालों में इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण के क्षेत्र में 20 हजार करोड़ के निवेश और 2022 तक कम से कम 3 लाख लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य सरकार ने सिर्फ 3 सालों में पूरा कर लिया है.

भतीजे अखिलेश यादव से मिलना चाहते हैं शिवपाल, सपा अध्यक्ष नहीं दे रहे कोई रिस्पांस

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें