Smart City Project: महिलाओं, शहरी गरीब और प्रवासी मजदूरों को काम शुरू करने की मिलेगी स्मॉर्ट ट्रेनिंग

ABHINAV AZAD, Last updated: Fri, 19th Nov 2021, 6:55 AM IST
  • योगी आदित्यनाथ सरकार ने भारत सरकार की स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत लखनऊ के 1 हजार महिलाओं, शहरी गरीब, प्रवासी मजदूरों को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित करने का फैसला लिया है. इस बाबत लोक भवन में अपर मुख्य सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम एवं उद्यमिता विकास संस्थान के चेयरमैन के बीच एमओयू साइन किया गया.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने भारत सरकार की स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत लखनऊ जनपद को स्मार्ट सिटी बनाने की दिशा में अहम कदम उठाया है. इस बाबत गुरूवार को लोक भवन में अपर मुख्य सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम एवं उद्यमिता विकास संस्थान के चेयरमैन डॉ. नवनीत सहगल तथा लखनऊ के कमिश्नर एवं लखनऊ स्मार्ट सिटी के अध्यक्ष श्री रंजन कुमार की उपस्थिति में एक एमओयू हस्ताक्षरित किया गया. इस एमओयू में लखनऊ के कमिश्नर एवं लखनऊ स्मार्ट सिटी के अध्यक्ष श्री रंजन कुमार की उपस्थिति में 1000 महिलाओं, शहरी गरीब, प्रवासी मजदूरों को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित किये जाने का फैसला लिया गया.

इस दौरान निदेशक उद्यमिता विकास संस्थान श्री डीपी सिंह एवं महाप्रबंधक परियोजना लखनऊ स्मार्ट सिटी श्री एससी सिंह द्वारा समझौता ज्ञापन का आदान-प्रदान किया गया. इस मौके पर डॉ. नवनीत सहगल ने बताया कि उद्यमिता विकास संस्थान एवं लखनऊ स्मार्ट सिटी परियाजना के मध्य एक वर्ष के लिए एमओयू हुआ है, जिसके अन्तर्गत उद्यमिता विकास संस्थान लखनऊ जनपद में लोगों को अलग-अलग क्षेत्रों में स्मार्ट ट्रेनिंग देकर उन्हें रोजगार से जोड़ा जायेगा. साथ ही प्रशिक्षण प्राप्त लाभार्थियों को उनका स्वयं का व्यवसाय शुरू करने में सरकार मदद भी करेगी. उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत इस प्रकार की पहल करने वाला उत्तर प्रदेश देश में पहला राज्य होगा.

राज्यपाल आनंदी बेन ने BSP अध्यक्ष मायावती से की मुलाकात, महासचिव सतीश मिश्र भी रहे मौजूद

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम के महिलाओं को पालना गृह संचालन की स्मार्ट ट्रेनिंग दी जायेगी. इसके साथ ही महिलाओं को स्मार्ट लेडी ड्राइवर का भी प्रशिक्षण दिया जायेगा. इसके अलावा स्मार्ट वेलनेस सेंटर, कैटरिंग, स्मार्ट सैलून, स्मार्ट होम सर्विस तथा स्मार्ट सिक्यूरिटी सर्विसेज के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा. उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी परियेजना के तहत उत्तर प्रदेश में स्मार्ट सिटी में ऑटो, कॉन्स्ट्रक्शन, रिटेल, फूड प्रोसेसिंग एवं हेल्थ केयरनेस के क्षेत्र में लोगों को प्रशिक्षित करने तथा उन्हें रोजगार से जोड़ने की योजना है. उद्यमिता विकास संस्थान के साथ लखनऊ स्मार्ट सिटी का समझौता इस दिशा में उठाया गया महत्वपूर्ण कदम होगा, जो आगे चलकर अन्य जिले के स्मार्ट सिटी परियोजना के लिए मील का पत्थर साबित होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें