लखनऊ: मुख्तार अंसारी के करीबियों समेत 19 अपराधी 6 महीने को जिला बदर

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 10:26 PM IST
  • लखनऊ में सोमवार को बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबियों सहित 19 अपराधियों के खिलाफ जिला बदर की कार्रवाई की गई. इसके तहत ये अपराधी 6 महीने तक शहर में नहीं दिखेंगे. फिर भी यदि अपराधी इन 6 महीनों के दौरान शहर में दिखे तो इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.
बाहुबली मुख्तार अंसारी

 लखनऊ. सोमवार को लखनऊ में पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे के नेतृत्व में अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत अपराधियों पर जिला बदर की कार्रवाई गई.इन अपराधियों में बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेहद करीबी जुगनू वालिया उर्फ हरविंदर सिंह और उसके भाई सोनू वालिया उर्फ रघुविंदर सिंह भी शामिल हैं.

आपको बता दें कि इस अभियान के तहत पुलिस ने अपराधों में सक्रिय और बड़े माफिया से सांठगांठ रखने वाले 19 अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की है. इसके अलावा लोगों में इन अपराधियों का डर खत्म करने के लिए पुलिस ने बदमाशों के घर के सामने डुगडुगी पिटवा कर मुनादी करवाई और कहा गया कि ये बदमाश शहर में अगले 6 महीने तक नहीं दिखेंगें. उसके बावजूद यदि किसी को यह बदमाश दिखाई दे तो इसकी सूचना पुलिस को दी जाए. पुलिस बताने वाले का नाम गुप्त रखेगी. ऐसे अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई भी की जाएगी.

राम मंदिर नींव की खुदाई मंगलवार से होगी शुरू, अयोध्या पहुंचे नृपेन्द्र मिश्र

गौरतलब है कि इन अपराधियों में से कुछ के खिलाफ पिछले महीने अपराध से कमाई गई संपत्ति को पुलिस ने ज़ब्त किया था. आपको बता दें कि पुलिस ने कुछ दिन पहले अपराध में लगातार सक्रिय और बड़े माफिया से साठगांठ रखने, भू-माफिया से मिलकर जमीनों पर कब्जा करने वालों की सूची तैयार करायी गई थी. इन सभी के खिलाफ अपराधियों के खिलाफ गुण्डा एक्ट की कार्रवाई की गई। इसके तहत ही इन्हें छह महीने के लिये जिला बदर घोषित किया गया.

लखनऊ नगर निगम का कोरोना रोको कैंपेन, कोई बिना मास्क दिखे तो टोको

एडीसीपी के अनुसार जिला बदर किये गए अपराधियों में चन्दरनगर निवासी जुगनू व सोनू वालिया के अलावा मड़ियांव निवासी शान उर्फ मो. तबिश, जुबेर, निरालानगर निवासी रौनक, अरविन्द, आलमबाग निवासी दिलशाद अहमद, राजाजीपुमर निवासी विवेक सोनकर, पारा निवासी जितेन्द्र रावत, सरोसा निवासी रामशंकर, कृष्णानगर निवासी छोटू उर्फ कृष्णा, अंकज वर्मा, अमित कुमार, पारा पिंक सिटी निवासी अंसार अली, चन्दरनगर निवासी मिंटू बेदी उर्फ जसप्रीत सिंह, मड़ियांव में गायत्री अस्पताल के पास रहने वाला अली हसन, मो. असलम, गोसाईगंज निवासी अतर सिंह वर्मा और नगराम निवासी इमरान उर्फ इमाम शामिल हैं.

लखनऊ: यूपी सरकार में सचिव IAS सुशील कुमार मौर्य की कोरोना से मौत

पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने बताया  कि ऐसी ही एक और सूची तैयार हो रही है. लोगों के मन में खौफ पैदा करने वाले बदमाशों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें