यूपी में बिना RTPCR निगेटिव रिपोर्ट एंट्री बैन करने की तैयारी में योगी सरकार

Smart News Team, Last updated: Sun, 18th Jul 2021, 12:12 AM IST
  • उत्तर प्रदेश में योगी सरकार कोरोना की तीसरी लहर से पहले ही सतर्कता बरतने लगी है. अब प्रदेश सरकार बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों के लिए नए नियम बनाने जा रही है.
कोरोना की तीसरी लहर के लिए योगी सरकार का फरमान

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में योगी सरकार कोरोना की तीसरी लहर से पहले ही सतर्कता बरत रही है. इसके लिए योगी सरकार बहुत जल्द ही नया फरमान जारी करने जा रही है. प्रदेश सरकार का ये फरमान कोरोना से संबंधित रहेगा जिसमें साफ कहा गया है कि अगर कोई भी बाहरी प्रदेश से आएगा तो उसे कुछ कागजात दिखाने होंगे. दरअसल सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड 19 की तीसरी लहर से पहले ही टीम-9 के साथ बैठक की है. इस बैठक में यह फैसला लिया कि कोरोना प्रभावित राज्यों से आने वाले लोगों को नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट और वैक्सीन के दोनों डोज की रिपोर्ट दिखानी होगी. इसके बाद ही प्रदेश में उन्हें एंट्री मिलेगी.

योगी सरकार जल्द ही इस नियम को लागू करने जा रही है. इसके लिए यूपी सरकार ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह इस संबंध में जल्द ही दिशा निर्देश जारी करें. इसके साथ ही सीएम ने कहा जो लोग बाहरी प्रदेश से आने के बाद कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे हैं उनकी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग और जांच जरूर कराएं. 

योगी सरकार में प्रदेश में सबसे अधिक 4 करोड़ का टीका लगा है जो सबसे अधिक टीका लगाने वाला पहला राज्य बना है. योगी सरकार ने जिस तरह से कोरोना में प्रदेश की जनता का ध्यान रखा है उसकी तारीफ खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वाराणसी दौरे में की थी. योगी सरकार में प्रदेश के 6 जिलों में कोरोना का एक भी मरीज नहीं है. जो 6 जिले कोरोना मुक्त हुए हैं उनमें अलीगढ़, चित्रकूट, हाथरस, कासगंज, महोबा और श्रावस्ती का नाम शामिल हैं. प्रदेश में इस समय 166 ऑक्सीजन प्लांट चालू हैं.

बकरीद गाइडलाइन: ईदगाह-मस्जिदों में सिर्फ इतने लोगों को नमाज की परमिशन

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें