यूपी में 65 KM का श्रीराम इंडस्ट्रियल हब बनाएगी योगी सरकार, लाखों को मिलेगी नौकरी, रोजगार

Anurag Gupta1, Last updated: Wed, 24th Nov 2021, 10:45 PM IST
  • सरकार आयोध्या और आसपास के इलाकों में इंस्ट्रियल हब बनाने की तैयारी कर रही है. लखनऊ- आयोध्या- बस्ती हाइवे किनारे श्रीराम इंस्ट्रियल हब के रूप में विकसित करने जा रही है. आयोध्या विकास प्राधिकरण हाइवे के किनारे करीब 65 किमी तक इंडस्ट्रियल कॉरिडॉर विकसित करेगा.
आयोध्या विकास प्राधिकरण (फाइल फोटो)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या और इसके आसपास के क्षेत्रों को इंस्ट्रियल हब बनाने की तैयारी कर रही है. सरकार लखनऊ- आयोध्या- बस्ती हाइवे किनारे इंस्ट्रियल हब के रूप में विकसित करने जा रही है. अयोध्या विकास प्राधिकरण श्रीराम इंडस्ट्रियल हब के नाम से अयोध्या के अधिकार क्षेत्र में आने वाले हाइवे के किनारे करीब 65 किमी तक इंडस्ट्रियल कॉरिडॉर विकसित करेगा.

अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह ने बताया कि पहले चरण में लखनऊ-अयोध्या- बस्ती रूट पर फोर लेन के दोनों ओर काम की शुरुआत होगी. मास्टर प्लान 2031 के तहत इसे विकसित किया जाएगा. 65 किलो मीटर परिक्षेत्र के 100 एकड़ में इसे स्थापित किया जाएगा. अगले महीने मास्टर प्लान को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है. सरकार के अप्रूवल के बाद इस योजना पर ग्राउंड वर्क शुरू कर दिया जाएगा.

यूपी में महागठबंधन के आसार, RLD के बाद AAP हो सकती है सपा की साइकिल पर सवार

विकास के लिए किसानों की जमीन लेंगे:

अयोध्या विकास प्राधिकरण के मुताबिक बाकी विकास परियोजनाओँ की तरह इस परियोजना के लिए भी किसानों की जमीन का अधिग्रहण होगा. इस परियोजना के तहत बिजनेस मैन सीधे किसानों से जमीन खरीदेगा. 100 एकड़ के क्षेत्र में 114 विकास परियोजनाओं को मास्टर प्लान में शामिल किया गया है.

मंदिर की सुरक्षा के लिए मॉडर्न कंट्रोल रूम:

अयोध्या में मंदिर निर्माण के चलते यहां पर आने जाने वालों की भीड़ और गतिविधियां काफी बढ़ गई है. ऐसे में श्रीराम मंदिर के मद्देनजर यहां मार्डन सिक्योरिटी सिस्टम लागू किया जाएगा. यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल ने बताया अयोध्या के दुराही कुआं के पास 12 हजार स्क्वायर मीटर जमीन में मॉडर्न कंट्रोल रूम बनाया जाएगा. जहां से पंचकोसी परिक्रमा मार्ग, श्रीराम मंदिर, सरयू घाट और आने वाले समय में इंडस्ट्रियल हब को भी मॉनिटर किया जा सकेगा. मौजूदा समय में अयोध्या में 389 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. जिसमें अकेले 70 कैमरे श्रीराम जन्मभूमि क्षेत्र में हैं. अब इन सभी कैमरों की मॉनीटरिंग एक कंट्रोल रूम से की जा सकेगी. एटीएस, एसटीएफ व आईबी की यूनिट भी अयोध्या में स्थापित की जाएगी. पीएसी बटालियन के लिए जमीन चिह्नित की जा चुकी है. इंस्ट्रियल हब बनाने के साथ राम मंदिर की सुरक्षा पर भी काफी ध्यान दिया जाएगा. 

बढ़ेगा रोजगार का अवसर:

हाइवे के किनारे इंस्ट्रियल हब बनने से रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. आयोध्या सहित आसपास के क्षेत्र के लोगों को रोजगार मिलेगा. जब बिजनेसमैन जमीनें खरीदकर इंडस्ट्री लगाएंगे तो विकास की गति भी तेज होगी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें