UP के मंत्री बोले- BJP सरकार मुस्लिमों को टोपी से टाई की ओर तक ले जाना चाहती है

Smart News Team, Last updated: Sat, 10th Jul 2021, 5:07 PM IST
योगी आदित्यनाथ सरकार जल्द ही राज्य स्तर पर जनसंख्या कानून लाने की तैयारी कर रही है. यूपी जनसंख्या विधेयक 2021 का ड्राफ्ट भी तैयार कर लिया गया है जिसपर अब योगी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने मुसलमानों को लेकर बड़ा बयान दिया है.
योगी के मंत्री मोहसिन रजा बोले- सरकार मुसलमानों को टोपी से टाई की ओर तक ले जाना चाहती है

लखनऊ. योगी आदित्यनाथ सरकार उत्तर प्रदेश में जनसंख्या कानून लाने की तैयारी में है. यूपी जनसंख्या विधेयक 2021 का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है जिसे वेबसाइट पर अपलोड करने के बाद 19 जुलाई तक आम जनता की इस मामले में राय मांगी गई है. यूपी की जनसंख्या नीति के इस मसौदे पर योगी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने बड़ा बयान दिया है. जिसमें उन्होंने कहा कि हम अपने लोगों को टोपी से टाई की तरफ ले जाना चाहते हैं. साथ ही कहा कि दो बच्चों को हम डॉक्टर और इंजीनियर बना सकते हैं लेकिन 8 बच्चे होंगे तो साइकिल की दुकान पर पंचर लगाएंगे और फावड़ा लेकर मजदूरी ही करेंगे.

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है जिसमें यह बड़ा फैसला लिया गया है कि प्रस्तावित कानून के तहत दो से अधिक बच्चों के पिता को किसी भी सरकारी सब्सिडी या किसी कल्याणकारी योजना का लाभ नहीं मिलेगा. इसके अलावा ऐसे व्यक्ति किसी सरकारी नौकरी के लिए भी आवेदन नहीं कर सकता है. इतना ही नहीं दो से अधिक बच्चे पैदा करने पर लोगों को स्थानीय निकाय चुनाव में भी लड़ने की मनाही होगी. इस मामले में सूबे के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि कानून को हमने जनता के बीच रखा है और राय मांगी गई है लेकिन उल्लंघन करने पर सुविधाएं वापस ले ली जाएंगी.

ब्लॉक प्रमुख चुनाव जीतने-हारने वालों को पुलिस निगरानी में पहुंचाएं घर: CM योगी

 

मोहसिन रजा ने सपा और कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी हो या फिर कांग्रेस, वैसे ही इनका जनाधार नहीं है. ये लोग सिर्फ धर्म और जाति की राजनीति करते हैं लेकिन हम धर्म और संप्रदाय को टारगेट नहीं कर रहे हैं, बल्कि देश को आगे ले जाना चाहते हैं. साथ ही जनसंख्या नियंत्रण कानून के मसौदे पर कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने भी प्रतिक्रिया दी जिसमें उन्होंने यूपी सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए यह मसौदा पेश किया गया है. बीजेपी इसके जरिये धर्म के आधार पर समाज में ध्रुवीकरण की कोशिश कर रही है. यूपी सरकार जो नीति लेकर आई है उस पर पहले तमाम लोगों, जनप्रतिनिधियों या एनजीओ से चर्चा करनी चाहिए।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें