मिडल क्लास फैमिलीज को लुभाने के लिए योगी सरकार की नई योजनाएं, जानें डिटेल्स

Smart News Team, Last updated: 11/12/2020 02:04 PM IST
योगी सरकार द्वारा हाल ही में कई योजनाओं से मिडल क्लास फैमिली को लुभाने की कोशिश की गई है. अब योगी सरकार एक नया किराएदारी कानून भी लेकर आ रही है. जिसके जरिए किराएदार और मकान मालिक दोनों को राहत दी गई है.
योगी आदित्यनाथ अपनी योजनाओं से मिडिल क्लास फैमिली को आकर्षित करने की कोशिश कर रहे.

लखनऊ. प्रदेश की योगी सरकार वर्तमान में अपनी योजनाओं से चर्चा में बनी हुई है. ये योजनाएं मिडिल क्लास फैमिली के लिए काफी लाभकारी सिद्ध हो रही है. राज्य की सरकार एक किराएदारी कानून लेकर आ रही है जिससे मकान मालिक और किराएदार दोनों को ही राहत मिलेगी. इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने फ्लैट बायर्स को भी फायदा पहुँचाया है. हाल ही में नौकरी में चयन होने वाले अभ्यर्थियों को योगी नियुक्ति पत्र देकर उनसे संवाद भी कर रहे हैं. साथ ही प्रवासी मजदूरों को भी रोजगार देने के लिए रोजगार हेल्प डेस्क भी बनाई गई है.

जानकारी के अनुसार योगी सरकार के नए किराएदार ही कानून से ना तो मकान मालिक अपनी मर्जी से किराया बढ़ा पाएंगे और ना ही किराएदार बिना किराया दिए किसी मकान में रह सकेंगे. इस प्रकार सरकार ने अपनी योजना से दोनों ही पक्षों को राहत देने की कोशिश की है. दोनों को कानूनी संरक्षण प्रदान कर किराएदार और मकान मालिक के बीच होने वाले विवाद से छुटकारा भी दिलाया है. इस कानून के जरिए नोएडा गाजियाबाद जैसे शहरों का किराया दिल्ली और एनसीआर के बाकी शहरों की तुलना में कम बढ़ेगा. 

योगी सरकार की बड़ी पहल, 20 लाख किसानों को फ्री में मिलेंगे सब्जियों के बीज 

यदि बात की जाए फ्लैट बायर्स की तो उनकी मुश्किलों को भी हल करने के लिए योगी सरकार ने सख्त रुख अपनाया है. बिल्डरों को फ्लैट देने के लिए डेडलाइन तय की गई है. प्राधिकरण के अफसरों को कड़े निर्देश देने से बायर्स को फ्लैट मिलने की रफ्तार में भी तेजी आई है.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भड़के, कहा- BJP सरकार बंद करे किसानों का शोषण

यूपी में बेरोजगार लोगों को भी राहत देने का काम योगी सरकार ने किया है. लॉकडाउन के समय में कई राज्यों से प्रवासी मजदूर अपने घर लौटे थे. इसके बाद सरकार ने इन मजदूरों को राज्य में ही काम देने का ऐलान किया था. सरकार द्वारा इनके लिए एक रोजगार हेल्पडेस्क बनाई गई है. प्रवासी मजदूरों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर डाटा भी तैयार किया गया है. उपयुक्त मजदूरों को रोजगार से जोड़ने की कवायद भी की गई है. प्रदेश में अब विभाग बार रोजगार पैदा करने का लक्ष्य तय किया गया है.

लखनऊ: कैसरबाग से लाटूश रोड पर बनेगा फ्लाईओवर, शहरवासियों को जाम से मिलेगा निजात

इसके अतिरिक्त योगी सरकार मध्यमवर्गीय लोगों को रोजगार देखकर उनका भी दिल जीतने का प्रयास कर रही है. सरकार द्वारा चार साल में 4 लाख सरकारी नौकरी देने का दावा किया गया है. किस विभाग द्वारा कितनी नौकरियां दी गई है इसका भी ब्यौरा योगी सरकार के पास है. सुबे के मुख्यमंत्री नौकरी में चयन होने वाले अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देकर उनसे संवाद भी कदम कर रहे हैं. सरकार के ऐसे कदम उन्हें मिडिल क्लास लोगों से सीधी जोड़ने का काम कर रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें