यूपी में योगी सरकार की नई टेक्नोलॉजी से लाइट हाउस बनाने की तैयारी

Smart News Team, Last updated: Mon, 28th Dec 2020, 5:11 PM IST
उत्तर प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा लाइट हाउस बनाने की कवायद की जा रही है. नई टेक्नोलॉजी से बनने वाले मकान की शुरुआत लखनऊ से होकर पूरे प्रदेश में की जाएगी. गौरतलब है कि राज्य और केंद्र सरकार हर मकान पर 5.33 लाख रुपए की सब्सिडी दे रही हैं.
योगी सरकार नई टेक्नोलॉजी से प्रदेश में मकान बनाने की तैयारी कर रही है.

लखनऊ. योगी सरकार राज्य में नई टेक्नोलॉजी से लाइटहाउस मकान बनाने की तैयारी कर रही है. लखनऊ से इसकी शुरुआत होगी. इसके बाद पूरे प्रदेश में इसका व्यापक प्रसार किया जाएगा. साथ ही आपको बता दें कि केंद्र सरकार भी नई टेक्नोलॉजी के मकान के निर्माण के लिए काफी मदद कर रही है. राज्य और केंद्र सरकार प्रति मकान 5.33 लाख रुपए का अनुदान दे रही है.

जानकारी के अनुसार लखनऊ में केंद्र सरकार की मदद से लाइट हाउस योजना की शुरुआत होने जा रही है. 1 जनवरी को प्रधानमंत्री इसका शुभारंभ करेंगे. इस टेक्नोलॉजी के अनुसार बहुत जल्दी मकान बनकर तैयार हो जाएगा. अभी कंपनियों के पास नई टेक्नोलॉजी के निर्माण के लिए संसाधन नहीं है. हालांकि इसमें निर्माण की लागत ज्यादा आ रही है क्योंकि जो मकान सामान्य तौर पर छह लाख में बन जाते हैं लेकिन इस नई तकनीक पर करीब 12.59 लाख रुपए का खर्चा आएगा.

'ईज ऑफ लिविंग' योजना से वंचितों को आसानी से मिलेगा सरकारी योजनाओं का लाभ

सूडा के निर्देशक उमेश प्रताप सिंह ने बताया कि मकान की लागत इसलिए बढ़ रही है क्योंकि अभी ज्यादा कंपनियां काम नहीं कर रही है. इस तकनीक को बढ़ावा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकार द्वारा सब्सिडी दी जा रही है. जैसे-जैसे तकनीक प्रचलन में आएगी और नई कंपनियां काम करना शुरू कर देंगी, उसके बाद निर्माण लागत काफी कम हो जाएगी. उन्होंने यह भी बताया कि यह मकान पूरे स्टील के फ्रेम में बनेंगे. इसमें मजबूती में कहीं भी कमजोरी नहीं रहती है. पूरे प्रदेश में इस टेक्नोलॉजी को बढ़ावा दिया जा रहा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें